Curfew imposed after pelvic arson in Banswara

बांसवाड़ा में धार्मिक स्थल को लेकर उपजे विवाद के बाद हालात बेकाबू, पथराव, आगजनी के बाद लगाया कर्फ्यू

Published Date-12-May-2017 09:11:29 PM,Updated Date-12-May-2017, Written by- FirstIndia Correspondent

बांसवाड़ा। बांसवाड़ा मे दो पक्षों के बीच विवाद हुआ, जिसके बाद यहां जमकर पथराव हुआ और आगजनी की घटना भी हो गई। जानकारी के अनुसार, शहर के कालिका माता खाटवाड़ा इलाके मे जिला प्रशासन ने सबसे पहले धारा 144 लगाई, लेकिन बेअसर रही। आज सुबह एक बार फिर एक विशेष समुदाय के लोग हाथे मे नंगी तलवारें लेकर सड़कों पर आ गये और दूसरे पक्ष के लोगों पर पथराव कर दिया, जिससे चारों ओर अफरा—तफरी मच गई।


एक विशेष समुदाय के लोगों ने अपने घरों पर चढ़कर जमकर पथराव किया। इसके चलते छोटे बड़े एवं बुजुर्ग लोगों को मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है और फिलहाल यहां हालात बेकाबु हो गये बताए जा रहे हैं। पुलिस ने करीब पांच घण्टे बाद उसी इलाके मे कर्फ्यू का आर्डर दिया, लेकिन उससे पहले प्रशासन के पास समय था, लेकिन पुलिस का गैर जिम्मेदार रवैया रहा, जिसका खामियाजा ये रहा कि एक पक्ष सरेआम गुण्डागर्दी पर उतर आया और पुलिस के समझाने पर पुलिस को भी खदेड़ दिया गया।


ऐसे में पुलिस मूकदर्शक बनी रही और आखिरकार कलेक्टर एसपी स्वयं अपनी वर्दी पहनकर मोर्चा संभालने निकले। उच्चाधिकारियों ने स्वयं मौके पर आकर उच्चस्थ अधिकारियों से बात कर कर्फ्यू का आर्डर दिया। उसके बाद भी विशेष समुदाय अपने पर उतरा हुआ है। आक्रोशित लोगों ने दो गाड़ियां फूंक दी औ बाईक को भी आग के हवाले कर दिया। इससे एक घर का आंगन भी जल गया।


इतना ही नहीं, इलाके के पास वन विभाग की पह़ाड़ी भी है, जिस पर चढ़कर पथराव कर रहे हैं। कुछ लोगों को खदेड़ा भी गया। दरअसल, ये पूरा वाकया एक धार्मिक स्थल को लेकर हुआ, जिस पर विवाद के बाद आगजनी, पथराव और गुंण्डागर्दी मे तब्दील हो गया।

 

Banswara Rajasthan Dispute Stone Throwing Curfew Rajasthan News

Recommendation