Live Tv

16.7°С
Jaipur

Breaking News

Campaign against arbitrary of government by college Professor

प्रोफेसर ने चलाई शिक्षा विभाग की मनमानी के खिलाफ मुहीम

Published Date-02-Jan-2017 02:39:27 PM,Updated Date-02-Jan-2017, Written by- FirstIndia Correspondent

भरतपुर| राजस्थान के भरतपुर में स्थित एमएसजे कॉलेज में राजनीति विज्ञानं के व्याख्याता अरविंद वर्मा कॉलेज परिसर में छात्र छात्राओं को शिक्षा विभाग की मनमानी के चलते खुले में पढ़ाने को मजबूर है क्योंकि उनका तबादला सरकार ने कर दिया था लेकिन हाई कोर्ट ने तबादले पर रोक लगा दी और वहीँ पदस्थापित करने का आदेश दिया था बावजूद इसके व्याख्याता को कॉलेज में ज्वॉइनिंग नहीं दी जा रही है जिसके बाद व्याख्याता ने बच्चों को खुले आसमान के नीचे पढाई कराने का कदम उठाया है|

 

दरअसल पिछले 16 महीनों में उक्त व्याख्याता का छह बार तबादला किया गया है लेकिन कोर्ट ने इस बार तबादले पर रोक लगा दी है फिर भी उनको कॉलेज प्रशासन ने ज्वॉइनिंग करने की अनुमति नहीं दी है| इस पूरे प्रकरण के लिए पीड़ित व्याख्याता ने भाजपा सरकार और राज्य के पूर्व शिक्षा मंत्री व वर्तमान चिकित्सा मंत्री कालिचंरण सराफ पर निशाना साधा है क्योंकि व्याख्याता ने आरएसएस की बैठकों में जाने से इनकार कर दिया था|

 

दूसरी तरफ कॉलेज प्राचार्य के अनुसार उन्होंने हाई कोर्ट का आदेश शिक्षा निदेशालय को भेजा है जहां से सुझाव आने के बाद व्याख्याता को पदस्थापित किया जायेगा । प्रोफेसर ने अपने हक़ के लिए इन दिनों राज्य सरकार के खिलाफ मुहीम चला रखी है|

 

Professor, Government, Bharatpur, Rajasthan, Campaign

Related Stories in City

Relate Category

Poll

क्या पुलिस की ढिलाई के कारण महिलाओं से अपराध बढे हैं?

A Yes
B No

Thought of the day

मूर्खों से तारीफ सुनने से बेहतर है कि आप बुद्धिमान इंसान से डांट सुन ले ~ चाणक्य

Horoscope