CFCD और LED लाइट के मुद्दे को लेकर नगर निगम की विशेष साधारण सभा की हुई बैठक

Published Date 2017/03/16 14:08, Written by- FirstIndia Correspondent

भरतपुर| सीएफसीडी और LED लाइट के मुद्दे को लेकर भरतपुर नगर निगम की विशेष साधारण सभा की बैठक आज नगर निगम के सभागार में मेयर शिव सिंह भोंट की अध्यक्षता में हुई। जिसमें शहर के गंदे पानी के ड्रेनेज की सबसे बड़ी समस्या सीएफसीडी और उस पर हो रहे अतिक्रमणों और LED लाइट के मुद्दे को लेकर खास तौर पर चर्चा हुई| साथ ही बैठक में सीएफसीडी के लिए बजट आवंटन पर प्रस्ताव पास किया गया, जिसमें तय किया गया कि सीएफसीडी के बिगडते  स्वरूप को सुधारने के लिए नगर निगम और यूआईटी मिलकर 40 करोड़ रुपए खर्च करेंगे और 40 करोड़ की लागत से इसका पक्का निर्माण कराया जाएगा|

 

बैठक में निगम के पार्षदों ने सीएफसीडी के लो लाइन एरिया में हो रहे अतिक्रमणों को हटाने के लिए संयुक्त रूप से कमेटी बनाने का निर्णय लिया गया। बैठक में पार्षदों ने निगम प्रशासन और अधिकारियों पर इसकी अनदेखी का आरोप लगाया| साथ ही राजनेताओं द्वारा भू-माफियाओं को सरंक्षण देने का मुद्दा गरमाया। बैठक में यूआईटी सचिव लक्ष्मीकांत बालोत ,एसडीएम पी के मित्तल, कमिश्नर शिवचरण मीणा ने जिला प्रशासन की ओर से अपना पक्ष रखा और आपसी समन्वय से इसको सुधारने की बात कही। मैयर शिवसिंह भट्ट ने कहा है कि CFCD पर से अतिक्रमण और उसके मूल स्वरूप को बचाए रखने के लिए निगम प्रशासन प्रतिबद्ध है, और इसके लिए पूर्व में भी अमृत योजना में प्रस्ताव भिजवाया गया था, लेकिन अमृत योजना में  प्रस्ताव पारित नहीं होने से अब विशेष रुप से बैठक बुलाकर इसके लिए बजट पारित किया गया है| 

 

बैठक में मेयर सहित निगम पार्षदों ने शहर में LED लाइट लगाने वाली कंपनी पर काम में लापरवाही और अन्य नेताओं का अनियमितताओं का आरोप लगाया और कहां कि कंपनी की लापरवाही की वजह से आमजन को खासी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है| सरकार ने किस कंपनी से एमओयू किया है उस कंपनी ने भरतपुर में इस काम को सब लेट कर दिया है, जिससे सब लेट करने वाली कंपनी काम में लापरवाही बरत रही है| बैठक में प्रस्ताव पारित किया गया कि अगर 7 दिन में व्यवस्था नहीं सुधरी तो सरकार को कंपनी का एमओयू निरस्त करने के लिए प्रस्ताव को भेज दिया जाएगा।

 

Meeting, Municipal Corporation, Bharatpur, Rajasthan, CFCD, LED Light

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

Stories You May be Interested in


Most Related Stories


-------Advertisement--------



-------Advertisement--------