केवलादेव राष्ट्रीय पक्षी उद्यान में मिले पैंथर के पदचिन्ह, प्रशासन ने ग्रामीणों को किया अलर्ट

Published Date 2017/02/27 16:41, Written by- FirstIndia Correspondent

भरतपुर| राजस्थान के भरतपुर में स्थित केवलादेव राष्ट्रीय उद्यान में दो महीने बाद पैंथर के पगचिन्ह मिले है, जिसके बाद पार्क प्रशासन ने पर्यटकों सहित उन ग्रामीणों को सतर्क रहने के निर्देश जारी किए है, जो गांव राष्ट्रीय उद्यान के चारों तरफ बसे हुए है। दरअसल रविवार को ट्रेकिंग कर रहे गश्ती दल को चीतलों की अलार्म कॉल सुनाई दी जिसका पीछा किया गया तो पैंथर की भी कॉल सुनाई दी। गश्ती दल ने पार्क के अंदर कदंब कुंज क्षेत्र का इलाका तलाशा तो वहां पैंथर के पदचिन्ह पाए गए।

 

उद्यान के उपनिदेशक पुष्पेंद्र सिंह कटेला बताया कि पगमार्क ताजा हैं और कोला डहर इलाके में जाते हुए लगातार मिले हैं| इससे जाहिर होता है कि पैंथर का मूवमेंट डेंस फॉरेस्ट में हैं। इस इलाके में घना प्रशासन कैमरा ट्रेप लगाएगा जिससे पैंथर के मूवमेंट को ट्रेप किया जा सके। पैंथर को इससे पहले पिछले वर्ष  23 दिसंबर को कैमरे में ट्रेप किया गया था।

 

उद्यान प्रशासन ने ग्रामीणों को आगाह किया है कि वे जंगल में नहीं जाएं, क्योंकि कोला डहर और कदंब कुंज इलाके में पैंथर का मूवमेंट हैं| गौरतलब है कि इस क्षेत्र से दारापुर, कल्याणपुर, जाटौली, अघापुर आदि गांव जुडे़ हुए हैं| इन गांवों के बहुत से लोग जंगल में चले आते हैं इससे कभी भी कोई हादसा हो सकता है।

 

Panther, Footprint, Bharatpur, Rajasthan, Authorities, Keoladeo National Park

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

Stories You May be Interested in


Most Related Stories


-------Advertisement--------



-------Advertisement--------