Seminar organised on the topic of Health Protection and Nadi Diagnosis in Bharatpur

भरतपुर में "स्वास्थ्य संरक्षण एवं नाडी निदान " विषय पर सेमनीनार का हुआ आयोजन

Published Date-27-Feb-2017 03:31:03 PM,Updated Date-27-Feb-2017, Written by- FirstIndia Correspondent

भरतपुर| भरतपुर में सोमवार को आयुर्वेद राजस्थान आर्युवेद हृदय रोग चिकित्सा समिति एवं आर्युवेद मेडिकल आॅफीसर्स राजस्थान के संयुक्त तत्वाधान में "स्वास्थ्य संरक्षण एवं नाडी निदान " विषय पर सेमनीनार का आयोजन हुआ। जिस के मुख्य वक्ता राष्ट्रीय आयुर्वेद संस्थान जयपुर के पूर्व निदेशक बनवारी लाल गौड़ और एडिशनल प्रिंसिपल चीफ कंजरवेटर फॉरेस्ट इंडियन फॉरेस्ट सर्विस डॉक्टर दीप नारायण पांडे रहे। इस मौके पर उन्होंने कहा कि आयुर्वेद हमारे देश की सबसे प्राचीन चिकित्सा पद्धति है। जिसके द्वारा मरीज के रोग का जड़ से नाश किया जाता है। साथ ही आर्युवेद औषधियों का शरीर पर कोई दुष्प्रभाव भी नहीं पड़ता है।

 

सेमीनार में वक्ताओं ने आर्युवेद को जन-जन के बीच लोकप्रिय बनाने व आर्युवेद में हो रहे विभिन्न शोध कार्यों की जानकारी देने के लिए स्वास्थ्य सरंक्षण में आर्युवेद की भुमिका पर चर्चा की। साथ ही आधुनिक परिपेक्ष्य में नाडी निदान की अपयोगिता पर जानकारी दी। इस अवसर पर  वक्ताओं ने कहा कि जिन्दगी में आहार, विहार,, रसायन व चिकित्सा का निरोग जीवन में बडा ही अहम हिस्सा है। उन्होने कहा कि आर्युवेद के द्वारा हम खुद को कई बीमारियों से बचा सकते है। उन्होने आर्युवेद पद्धति को दुनिया की एकलौती पद्धति बताया जिसके द्वारा हम अपने जीवन को निरोग रख सकते है। 

 

वर्तमान परिपेक्ष्य में उन्होने कहा कि आर्युवेद को बढावा देने में सरकार काफी प्रयास कर रही है। लेकिन अभी बहुत कुछ और भी किया जाना आवचश्यक है। उन्होने बताया सरकार के आयुष मिशन के अन्तर्गत औषधीय पौधों को बडा महत्व दिया जा रहा है। इस राज्य स्तरीय सेमीनार में जिले के चिकित्सकों के साथ-साथ अजमेर, जयपुर, सीकर, कोटा, अलवर, बूंदी, पाली व बीकानेर के चिकित्सकों ने भी भाग लिया।इस अवसर पर कार्यक्रम समन्वयक चन्द्रप्रकाश दीक्षित ने कहा कि सेमीनार में आर्युवेद को आमजन तक पंहुचाने व इसकी महत्ता को अधिक से अधिक लोगों तक पंहुचाने पर साथ ही नाडी निदान पर चर्चा की जा रही है।

 

Seminar, Health Protection And Nadi Diagnosis, Bharatpur, Rajasthan 

Recommendation