RBI removes all cash withdrawal limits

रिज़र्व बैंक ने कैश निकालने पर लगी सभी पाबंदियों को हटाया

Published Date-15-Mar-2017 01:46:25 PM,Updated Date-15-Mar-2017, Written by- FirstIndia Correspondent

नई दिल्ली| सोमवार को रिज़र्व बैंक ने कैश निकासी पर लगी सभी पाबंदियों को हटा लिया है|  जी हां 8 नवंबर को नोटबंदी के ऐलान के बाद देशभर में बैंक अथवा एटीएम से पैसे निकलने पर लगी कोई पाबंदी अब नहीं रहेगी| रिजर्व बैंक ने 8 फरवरी को जारी अपने नोटिफिकेशन में कहा थि कि देश में बचत बैंक खाते से नोटबंदी के दौरान लगे प्रतिबंधों को 2 चरणों में पूरी तरह से हटा लिया जाएगा| केन्द्रीय बैंक के मुताबिक जहां 20 फरवरी 2017 से कैश निकासी की सीमा को बढ़ाकर 50,000 रुपये प्रति सप्ताह कर दिया गया था अब 13 मार्च, 2017 के बाद ऐसी कोई सीमा कैश निकासी पर नहीं रहेगी|

 

आपको बता दें कि केन्द्र सरकार ने 8 नवंबर के बाद नागरिकों को 50 दिन का समय प्रतिबंधित की गई 500 और 1000 रुपये की करेंसी जमा कराने के लिया दिया था| यह करेंसी अर्थव्यवस्था में संचालित कुल करेंसी का लगभग 86 फीसदी थी| इसकी जगह पर रिजर्व बैंक ने पहले 2000 रुपये फिर 500 रुपये की नई करेंसी बाजार में उतारी थी| हालांकि पुरानी करेंसी जमा करने की रफ्तार नई करेंसी जारी करने की रफ्तार में बड़ा अंतर था जिसके चलते देश के कई हिस्सों में कैश की समस्या पैदा हो गई थी|

 

कैश की इस किल्लत से लड़ने के लिए केन्द्रीय बैंक ने सेविंग बैंक अकाउंट समेत कारोबारी बैंक खातों से कैश निकासी पर कड़े प्रतिबंध लगा दिए थे| हालांकि रिजर्व बैंक ने अभी तक यह आंकड़ा नहीं जारी किया है कि नोटबंदी लागू होने के बाद कितने मूल्य की प्रतिबंधित करेंसी बैंकों में जमा की जा चुकी है और साथ ही बैंक ने यह भी नहीं बताया है कि कितने मूल्य की नई करेंसी का संचार नोटबंदी के बाद कर लिया गया है|

 

Cash, Notebandi, Bank, ATM, RBI, Demonetization, Cash Withdrawal 

 

Recommendation