एक्सिस बैंक का फोरेंसिक अंकेक्षण करेगी केपीएमजी

Published Date 2016/12/19 10:39, Written by- FirstIndia Correspondent

नई दिल्ली। एक्सिस बैंक के मुख्य कार्यकारी अधिकारी शिखा शर्मा ने रविवार को कहा कि नोटबंदी के बाद कुछ बैंककर्मियों के भ्रष्टाचार में लिप्त पाए जाने के बाद बैंक ने एक फोरेंसिक अंकेक्षण के लिए वैश्विक लेखा फर्म केपीएमजी की सेवा ली है। इसका मकसद तत्परता बढ़ाने और सुरक्षा उपाय करना है।

 

 

आयकर विभाग के छापे में पिछले हफ्ते नोएडा स्थित एक्सिस बैंक की शाखा में 20 फर्जी खातों से 60 करोड़ रुपये का पता लगाया था। बैंक के ग्राहकों को लिखे पत्र में एक्सिस बैंक की नींव को ठोस आधार वाला बताते हुए आश्वस्त किया। उन्होंने कहा कि बैंक खातों की गतिविधियों में अचानक हुई बढ़ोतरी पर नजर रख रहा और उसने संदिग्ध खातों को लेकर निगरानी कर रहा है।

 

शर्मा ने लिखा है कि हमलोग जानकारियां पाने के लिए अपनी शाखाओं का दौरा कर रहे हैं। इसके अलावा हमलोगों ने केपीएमजी को फोरेंसिक अंकेक्षण के लिए रखा है ताकि कर्मठता और सुरक्षा बढ़े।

 

KPMG, Forensic, Audit,  Axis Bank 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

Stories You May be Interested in


Most Related Stories


-------Advertisement--------