patanjali ayurveda fined rs 11 lakh for misleading

भ्रामक प्रचार करने पर पतंजलि को लगा 11 लाख का जुर्माना

Published Date-15-Dec-2016 11:11:40 AM,Updated Date-15-Dec-2016, Written by- FirstIndia Correspondent

हरिद्वार।  बाबा रामदेव की कंपनी ‘पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड’ एक बार फिर से विवादों में घिरती दिख रही है। एक बार फिर ‘पतंजलि’ पर अपने प्रोडक्ट के सेंपल फेल होने पर सवालों के घेरे में आती नजर आ रही है। ‘पतंजलि’ को मिस ब्रैंडिंग एवं भ्रामक प्रचार के पांच मामलों में दोषी पाए जाने पर एडीएम हरिद्वार (न्याय निर्णायक अधिकारी) ने ‘पतंजलि’ आयुर्वेद की पांच उत्पादन यूनिटों पर 11 लाख रुपये का जुर्माना लगाया है। 

 


बता दें कि ‘पतंजलि’ काटर्नओवर वर्तमान में 5 हजार करोड़ है, अगले वित्तीय वर्ष तक इसे 10 हजार करोड़ करने की तरफ कदम बढ़ा रही है। कोर्ट ने माना कि ‘पतंजलि’ जिन उत्पादों को अपनी यूनिटों में उत्पादित बताकर उनके लेबल पर बेच रही थी, वह किसी दूसरी यूनिटों में बने थे। कहा गया कि यह सीधे तौर पर खाद्य सुरक्षा मानक अधिनियम-2006 की धारा 52-53 और फूड सेफ्टी एंड स्टैंडर्ड (पैकेजिंग एंड लेबलिंग रेग्युलेशन-2011) की धारा 23.1(5) का उल्लंघन है।

 

Patanjali, Ayurveda, Fined, 11 LakhMisleading

Recommendation