अप्रैज़ल मीटिंग में रखें इन बातों का ख्याल

Published Date 2017/02/07 17:48, Written by- Pawan Tailor

किसी भी कंपनी में जॉब शुरू करने से पहले सैलरी पर बात करना आवश्यक होता है। कंपनी आपको जो सैलरी ऑफर कर रही जरूरी नहीं कि आप उससे संतुष्ट हों। अप्रैजल मीटिंग के दौरान भी आपको कंपनी में आपके पद की अहमियत और किए गए कार्य को दर्शाना होता है। आपके कार्य का प्रदर्शन ही आपके इंक्रीमेंट में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है। कुछ ऐसी महत्वपूर्ण बातें जो फ्रेशर्स को अपनी सैलरी या अप्रैजल के दौरान बातचीत करते समय ध्यान में रखना चाहिए। 


एक कर्मचारी के लिए मनचाहा वेतन पाने से अधिक संतोषजनक बात और कुछ नहीं हो सकती। अप्रैज़ल के लिए अपने मैनेजर से मीटिंग करने से पहले कुछ बातें ध्यान में रखें ताकि अप्रैज़ल मीटिंग में अपनी बात को प्रभावी ढंग से कह सकें। 


अप्रैज़ल मीटिंग के लिए खास टिप्स —

  • अपने रोल को समझें : सबसे पहले कंपनी में अपने रोल को समझें व अन्य कंपनियों में इसी तरह के पदों के लिए वेतन पद्वति और वेतन श्रेणी के बारे में जानकारी इक्ट्ठा करने की कोशिश करें। अपने बॉस या वरिष्ठ अधिकारी के सामने कंपनी में अपनी भूमिका को प्रभावी रूप से स्पष्ट करें। 

 

  • आत्मनिरीक्षण करें : अपना सेल्फ एनालिसिस करना भी जरूरी है। यह जानने कि कोशिश करें कि आपको कंपनी से क्या अपेक्षा है और कंपनी आपसे क्या चाहती है। अपनी खूबियों का आत्मनिरीक्षण करें नेगोसिएशन में अपनी उपलब्धियों की चर्चा करें।

 

  • सही समय : सही समय देखकर कंपनी में अपनी उम्मीदों को अभिव्यक्त करें। सुनिश्चित करें कि आपकी उम्मीदवारी और दक्षता ही आपको दिए गए काम के लिए सही है। अपने आप को बनाए रखने के लिए अपने पूर्व प्रदर्शन व उपलब्धियों का उपयोग करें। अपनी प्रतिबद्धता पर जोर देना व वित्तीय बाधाओं के संबध में बात करने से आपकी नकारात्मक छवि बन सकती है। 

 

  • वेतन के प्रारूप को समझें : आपको पेश किए जा रहे वेतन के प्रारूप को समझें। ऐसी योजनाएं बनाएं, जिनसे आपको लाभ हो। आप योग्य नही हैं तो अपने अप्रैज़ल को आगे न बढ़ाएं। अपनी अप्रैज़ल मीटिंग को लंबा न होने दें और किसी भी मुद्दे पर अडिय़ल रवैया न अपनाएं। आपका मैनेजर जब उस पैकेज पर राज़ी हो जाए जो आप चाहते हैं, तब यह पेशकश साबित करती है कि आप नेगोसिएशन में कितने सफल हुए। अगर दिया गया प्रस्ताव आपकी अपेक्षा के अनुरूप है तो ही आप सफल हैं, अन्यथा नहीं। 

 

  • उपलब्ध अवसर को देखें : अगर पेश किए गए इंक्रीमेंट से आप खुश नहीं हैं। बाजार में उपलब्ध अवसर को देखें और सही अवसर के बारे सोचने की कोशिश करें। काउंटर ऑफर भुनाने का सबसे अच्छा तरीका हैं कि करियर प्लानिंग, नौकरी की ज़रूरत और पैकेज जैसे महत्वपूर्ण तथ्यों पर विचार करें और फैसला लें। सैलरी नेगोसिएशन में आप खुद अपनी योग्यता की परख करते हैं और उसी आधार पर अपना पैकेज तय करते हैं। इसके लिए ज़रूरी है कि आप सबसे पहले खुद का सही मूल्यांकन करें और इस बारे में किसी भी तरह की गलती की गुंजाइश न रखें। अप्रैज़ल मीटिंग से पहले खुद के अंदर झाांकिए और अपने मुताबिक अपनी सही वैल्यू तय कीजिए।

 

Appraisal, Meeting, Increment, Carrier Council, Carrier Coaching, Carrier Tips, Success Mantra

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

Most Related Stories

Anand pal escaped after firing on policemen along
Know Who is this crook Anand pal | Dial
Why Anand pal is not found even after 5 days of