प्रदेश में बनेगा लहसुन का एग्रीकल्चर एक्सपोर्ट जोन, सर्वाधिक उपज वाले 4 जिले होंगे शामिल

Published Date 2017/03/16 16:56, Written by- Lal Singh Fazudar

जयपुर। प्रदेश में लहसुन उत्पादक किसानों को राहत देने के लिए सरकार एग्रीकल्चर एक्सपोर्ट जोन बनाएगी। इस एक्स्पोर्ट जोन में प्रदेश के सर्वाधिक उपज वाले 4 जिलों को शामिल किया जाएगा। विधानसभा में विधायक हीरालाल नागर के प्रश्न के जवाब के दौरान कृषि मंत्री प्रभुलाल सैनी ने सदन में यह घोषणा की।


सैनी के अनुसार एग्रीकल्चर एक्सपोर्ट जोन में लहसुन की प्रोसेसिंग हाईब्रिड और नई तकनीक की सुविधाएं किसानों को मुहैया कराई जाएगी। साथ ही कृषि मंत्री ने प्रदेश में लहसुन का एयर क्रॉस वेयरहाउस बनाने का ऐलान भी किया। प्रश्नकाल में हीरालाल नागर ने लहसुन का सही मूल्य नहीं मिलने का था मामला उठाते हुए किसानों को राहत देने की मांग की।


हालांकि कृषि मंत्री ने जवाब में लहसुन और जीरा को समर्थन मुल्य की खरीद सूची में शामिल नहीं होने की बात कही, लेकिन साथ ही यह भी आश्वासन दिया कि सरकार किसानों को हर संभव राहत देने का प्रयास करेगी। सैनी ने बताया कि इस संबंध में केन्द्र सरकार से बात हुई है और ऐसे किसानों को 50 फीसदी अनुदान देने की कोशिश भी की जा रही है। सैनी ने इस मामले में सहकारिता विभाग के साथ मिलकर संभावनाएं तलाशने की बात कही।

 

Jaipur, Rajasthan, Vidhan Sabha, Rajasthan Assembly, Agriculture, Prabhu Lal Saini, Garlic

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

Stories You May be Interested in


Most Related Stories


-------Advertisement--------



-------Advertisement--------