allegations of neglecting the interests of unemployed in state budget

राज्य बजट में बेरोजगारों के हितों की अवहेलना करने का आरोप

Published Date-14-Mar-2017 05:25:40 PM,Updated Date-14-Mar-2017, Written by- Bharat Dixit

जयपुर। प्रदेश बजट 2017 में प्रदेश के बेरोजगारों ने सरकार पर अवहेलना का आरोप लगाया है। पिंकसिटी प्रेस क्लब में आयोजित प्रेस वार्ता में बेरोजगारों ने आरोप लगाया कि हर आंदोलन के बाद उनको सिर्फ आश्वासन मिला है और बजट में भी उनकी अवहेलना की गई है। इसी के खिलाफ आक्रोश जताते हुए आज राजस्थान बेरोजगार एकीकृत महासंघ के प्रदेशाध्यक्ष उपेन यादव ने आमरण अनशन शुरू कर दिया है।


शहीद स्मारक पर शुरू हुए इस आमरण अनशन पर आज प्रदेशभर से बेरोजगार जुटे। उपेन यादव ने आरोप लगाया कि बेरोजगार अपनी चार सूत्रीय मांगों को लेकर लम्बे समय से संघर्ष कर रहे हैं और उनको लगातार सिर्फ आश्वासन ही मिल रहे हैं, जिससे आक्रोशित होकर ये कदम उठाना पड़ा है।


गौरतलब है कि पुलिस प्रशासन ने शहीद स्मारक पर किसी भी प्रकार के अनशन की अनुमति नहीं दी है। इस सवाल पर उपेन यादव का कहना है कि आंदोलन को जबरन दबाने के चलते अनुमति नहीं दी, लेकिन उसके बाद भी अनशन शुरू कर दिया गया है। अगर पुलिस प्रशासन जबरन अनशन से उठाती है तो शहीद स्मारक पर ही वो आत्मदाह करेंगे।

 

Jaipur, Rajasthan, Budget, Upen Yadav, Unemployment, Berojgaar Sangh

Recommendation