Gurjar comes in protest over five castes including Gujjars in OBC

गुर्जरों समेत पांच जातियां फिर ओबीसी में शामिल, विरोध में उतरे गुर्जर

Published Date-19-May-2017 08:38:28 PM,Updated Date-19-May-2017, Written by- Pawan Tailor

जयपुर। पिछले काफी समय से चले आ रहे गुर्जर आरक्षण मामले को लेकर राज्य सरकार ने आज एक अहम फैसला लिया है, जिसके मुताबिक गुर्जरों समेत पांच जातियों को एक बार फिर से अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) में शामिल किया है। राज्य सरकार ने आज एक अधिसूचना जारी कर गुर्जर, रैबारी, बंजारा, गड़रिया और गाड़िया लोहार को विशेष पिछड़ा वर्ग से अन्य पिछड़ा वर्ग में शामिल किया है, जो कि 9 दिसम्बर 2016 से ही अन्य पिछड़ा वर्ग में मानी जाएगी।


दूसरी ओर, सर​कार के इस फैसले को लेकर गुर्जर इसके विरोध में उतर आए हैं। राज्य सरकार पर निशाना साधते हुए गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के प्रवक्ता हिम्मत सिंह गुर्जर ने कहा कि पिछले 13 सालों के संघर्ष के बावजूद अभी तक कोई सार्थक नतीजा नहीं निकल पाया है। इसके बावजूद आज एक बार फिर से गुर्जरों को ओबीसी में शामिल किया जाना हमारे साथ एक धोखा है। ऐसे में हम 23-24 मई को कारवाडी, पीलूकापुरा, सिकंदरा में श्रद्धांजलि सभाएं आयोजित कर वसुंधरा सरकार के इस धोखे को समाज को बताएंगे।


गौरतलब है कि इससे पूर्व राज्य सरकार ने विभिन्न परिपत्र निकालकर गुर्जरों समेत पांच जातियों को विशेष पिछड़ा वर्ग में क्रमश: 5 प्रतिशत आरक्षण दिया था, लेकिन पांच प्रतिशत आरक्षण देने पर आरक्षण का कुल कोटा 54 प्रतिशत हो गया था। जबकि यह कोटा सुप्रीम कोर्ट के तय किए गए कुल 50 प्रतिशत से अधिक नहीं होना चाहिए। ऐसे में आरक्षण कोटा 50 प्रतिशत से अधिक पहुंच जाने को लेकर एक जनहित याचिका दायर की गई थी, जिसके बाद से ही गुर्जर आरक्षण मामला ठंडे बस्ते में था। हालांकि इस द​रमियान कई मर्तबा सरकार एवं गुर्जरों के बीच वार्ता भी हुई, लेकिन कोई सार्थक नतीजा नहीं निकल पाया।

 

Jaipur Rajasthan OBC Gurjar Reservation SBC Reservation Other Backward Cast Rajasthan News

Recommendation