University of rajasthan paper leak matter from Geography department

परीक्षा से पहले ही पेपर आउट करने के आरोप में एचओडी सहित कई प्रोफेसर गिरफ्तार

Published Date-18-Apr-2017 10:06:31 AM,Updated Date-18-Apr-2017, Written by- Ramswaroop Lamror

जयपुर | प्रदेश की राजधानी जयपुर में परीक्षा से कुछ दिन पहले ही पेपर लीक किए जाने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। एसओजी की टीम ने इस कारनामें का खुलासा करते हुए प्रदेशभर में एक दर्जन स्थानों पर छापेमारी करके राजस्थान विश्वविद्यालय के भूगोल विभाग के एचओडी प्रोफेसर जेपी जाट सहित आठ जनों को गिरफ्तार किया है। एडीजी उमेश मिश्रा ने बताया कि एसओजी के एडिशनल एसपी पुष्पेन्द्र सिंह राठौड़ की टीम पिछले दो महीने से इस प्रकरण पर नजर बनाए हुए थी। सारे तथ्य एकत्रित करने और सत्यापन किए जाने के बाद एकसाथ दबिश देकर अलग अलग ठिकानों से ये आठ गिरफ्तारियां की है।

 


सबसे बड़ी हैरान करने वाली बात यह है कि राजस्थान विश्वविद्यालय और बीकानेर विश्वविद्यालय की स्नातक और स्नातकोत्तर परीक्षाओं में जिन प्रोफेसर्स की बड़ी जिम्मेदारी गोपनीयता बरतने की थी, उन्हीं प्रोफेसर्स ने गोपनीयता भंग करते हुए परीक्षाओं के पेपर अपने चहेतों को बता दिए थे। एसओजी ने राजस्थान विश्वविद्यालय के भूगोल विभाग के एचओडी प्रोफेसर जेपी जाट, राजस्थान विश्वविद्यालय के रिटायर्ड प्रोफेसर बीएल गुप्ता, वाणिज्य विभाग के प्रोफेसर गोविन्द पारीक, राजकीय महाविद्यालय खाजूवाला के प्राचार्य एनएस मोदी और एनएस मोदी के बेटे निपुण मोदी जो की परीक्षार्थी भी था, एसएसजी पारीक कॉलेज चौमूं के व्याख्याता शम्भूदयाल झालानी, अग्रसेन कॉलेज भादरा हनुमानगढ के व्याख्याता कालीचरण शर्मा और रमेश बुक डीपो के कर्मचारी शरद को गिरफ्तार किया है।

 


एडीजी उमेश मिश्रा ने बताया कि बीकानेर युनिवर्सिटी के एम कॉम फाइनल का पेपर 5 अप्रेल को हुआ था। इस पेपर के प्रश्न पत्र को परीक्षा से चार दिन पहले ही राजस्थान विश्वविद्यालय के प्रोफेसर गोविन्द पारीक ने शम्भू दयाल से लिखकर खाजूवाला कॉलेज के प्राचार्य एनएस मोदी को बता दिया था। इसी प्रश्न पत्र को रमेश बुक डीपो के कर्मचारी शरद ने भी अग्रसेन कॉलेज भादरा हनुमानगढ के व्याख्याता कालीचरण शर्मा से दूरभाष पर प्राप्त कर अन्य लोगों को वितरित किया ता। राजस्थान विश्वविद्यालय के बीए फाइनल ईयर के भूगोल का द्वितीय प्रश्न पत्र 12 अप्रेल हो हुआ था। इस पेपर प्रशन पत्र को दो दिन पहले ही भूगोल विभाग के एचओडी प्रोफेसर जेपी जाट ने चहेते परीक्षार्थियों को वितरित कर दिया था।

 

राजस्थान यूनिवर्सिटी में हुआ पेपर लीक स्केंडल का खुलासा, जेपी जाट सहित पकड़े गए अन्य अधिकारी


इसी प्रकार राजस्थान विश्वविद्यालय के एबीएसटी द्वितीय प्रश्न पत्र (एडवांस कोस्ट अकाउंटिंग) की परीक्षा 13 अप्रेल को हुई थी। इस परीक्षा के प्रश्न पत्र को गोपनीय शाखा के नन्दलाल सैनी, अशोक अग्रवाल और महेश गुप्ता ने षड़यंत्रपूर्वक लीक करके गोपनीयता भंग की थी। एसओजी ने गोपनीय शाखा के नन्दलाल सैनी को भी हिरासत में लिया है। एसओजी के आईजी एमएन दिनेश का कहना है कि इस प्रकरण में अभी और भी गिरफ्तारियां होना शेष है। उधर एसओजी की टीम ने बांदीकुई में भी दबिश देकर एक प्रोफेसर और कुछ छात्रों को हिरासत में लिया है। बांदीकुई में बी कॉम पार्टी थर्ड के इनकम टैक्स का प्रशन पत्र परीक्षा से पहले ही लीक किए जाने का मामला सामने आया है।

 


इस पूरे प्रकरण का खुलासा करने में एसओजी के आईजी दिनेश एमएऩ, एसपी संजय श्रोत्रिय, एडिशनल एसपी पुष्पेन्द्र सिंह राठौड़ और एडिशनल एसपी ललित कुमार शर्मा को एडीजी उमेश मिश्रा ने बधाई दी है। उन्होंने कहा कि इस स्कैंडल का खुलासा करने में प्रमुख भूमिका निभाने वाले एडिशनल एसपी पुष्पेन्द्र सिंह राठौड़ को विभाग की ओर से पुरस्कृत भी किया जाएगा

 


Rajasthan, Jaipur, University of Rajasthan, JP JAAT, Paper leak, Bandikui, Geography department, HOD, ABST

Recommendation