Forest department is still careless on deers continue death

हिरणों की लगातार की मौत के बाद भी वन विभाग नहीं दिख रहा सतर्कता

Published Date-22-Apr-2017 06:54:55 PM,Updated Date-22-Apr-2017, Written by- FirstIndia Correspondent

जैसलमेर | पोकरण में नहीं थम रहा हिरणों के मरने का सिलसिला फिर 6 हिरणों को श्वानों ने मौत के घाट उतारा वन विभाग टीम जंगली जानवरों को पकड़ने में वन विभाग नाकाम। लाठी थाना क्षेत्र के धोलिया गांव में हिरणों के मरने का सिलसिला रुकने का नाम नहीं ले रहा है। कृषि फार्म हाउसों में देर रात व सुबह के समय पानी पीने आ रहे हिरणों पर श्वान हमला कर रहे है। 1 कृषि फार्म हाउस के पास हिरणों को शिकारी कुत्तों ने घेर कर कई जगहों से काट लिया|

 


मौके पर ही हिरणों ने दम तोड़ दिया। सूचना मिलने पर वन विभाग की टीम मौके पर पहुंचकर पोस्टमार्टम कर नर व मादा चिंकारा को दफनाया गया। गौरतलब है कि इससे पहले भी यहां शिकारी कुत्तों के काटने से 1 दर्जन हिरणों की मौत हो चुकी है। वन्यजीव प्रेमियों ने प्रशासन से कई बार गुहार लगाने के बाद भी वह राज्य पशु हिरण को सुरक्षा प्रदान करने में असफल रहा है। अखिल भारतीय जीव रक्षा विश्नोई सभा के जिला अध्यक्ष रामधन मांजू व सदस्य कई बार अधिकारियों, जनप्रतिनिधियों से मिल चुके है| लेकिन नतीजा अब तक शून्य ही रहा है।

 

Jaisalmer, Pokaran, Rajasthan, Forest department, Wild animals, Deer, Deer death

Recommendation