High court deny for counselling in private mediacal collages

प्राइवेट मेडिकल काॅलेजो को काउंसलिंग की इजाजत नहीं

Published Date-11-Apr-2017 04:56:34 PM,Updated Date-11-Apr-2017, Written by- FirstIndia Correspondent

जोधपुर | राजस्थान हाईकोर्ट के मुख्य न्यायधीश प्रदीप नंन्द्राजोग व जस्टिस डाॅ पुष्पेन्द्रसिंह भाटी की खंडपीठ ने पीजी कोर्सेस में प्रवेश के लिए प्राइवेट मेडिकल काॅलेज को उनके हिस्से की सीटों के लिए अलग से काउंसलिंग किए जाने की मांग को ठुकर दिया है। खंडपीठ ने उदयपुर की गीतांजलि मेडिकल यूनिवर्सिटी की ओर से दायर एक याचिका को खारिज करते हुए दिए।

 

खंडपीठ में गीतांजलि मेडिकल काॅलेज की ओर से सरकार की ओर से 20 मार्च व 24 मार्च 2017 को जारी नोटिफिकेशन्स को चुनौती दी गई थी।यूनिवर्सिटी की ओर से कहा गया कि सरकार की ओर से जारी नोटिफिकेशन्स की वजह से उनको पहले से प्राप्त 15 प्रतिशत एनआरआई सीटृस का कोटा समाप्त कर दिया है, जिसे पुनः बहाल किया जाए। वहीं निजी काॅलेजों को आवंटित 50 प्रतिशत सीटों के लिए जेसे बोलचाल की भाषा में मैनेजमेंट कोटा कहा जाता है, की काउंसलिंग करने का अधिकार भी उनको दिया जाए।

 

Jodhpur, Rajasthan, Rajasthan high court, Medical collages, PG courses, Geetanjali medical university, Counselling

Recommendation