people doin celibacy after came in our contact says asaram

मेरी पुत्री के सम्पर्क में आई महिलाएं और मेरे सम्पर्क में आए पुरूष कर रहे हैं ब्रह्मचर्य पालन : आसाराम

Published Date-14-Dec-2016 08:46:56 PM,Updated Date-14-Dec-2016, Written by- FirstIndia Correspondent

जोधपुर। यौन उत्पीडन के आरोपी आसाराम मामले में जिला एवं सेशन न्यायालय में आज नियमित सुनवाई हुई, जिसके दोरान आसाराम को कोर्ट में पेश किया गया। वहीं आसाराम ने कहा मेरी पुत्री भारती के सम्पर्क में आने से युवतियां ब्रह्मचर्य की पालना कर रही है और मेरे सम्पर्क में आये पुरूष भी ब्रह्मचर्य का पालन कर रहे हैं। भारतीय बेटियों को साहसी व संयमी बनना आवश्यक है।


आसाराम मामले की सुनवाई के लिए कोर्ट बदले जाने की जानकारी मिलते ही आसाराम के अधिवक्ताओं की ओर से एक अर्जी लगाकर कोर्ट नहीं बदलने की गुहार लगाई गई, जिसमें कहा कि अभी ट्रायल पूरा नहीं हुआ है और मामले को यहीं रखा जाये। लेकिन डीजे बीडी अग्रवाल ने हाईकोर्ट के आदेश होने की वजह से अर्जी को खारिज कर दिया, जिसके बाद अधिवक्ताओं का कहना है कि वो इस मामले में हाईकोर्ट में अर्जी पेश कर गुहार करेंगे।


आसाराम के अधिवक्ता सज्जनराज सुराणा की मानें तो यह गलत हुआ, पूरे राजस्थान में अधिकांश जिलों में मामले में एससी—एसटी कोर्ट में विचारण के लिए भेजे गये और वहां पहले से कई मामले विचाराधीन होने से मामले की सुनवाई में देरी होगी। वहीं कोर्ट परिसर के बाहर आसाराम समर्थकों का जमावड़ा लगा रहा। अब आसाराम मामले की अगली सुनवाई एससी—एसटी कोर्ट में 16 दिसम्बर से शुरू होगी।

 

Jodhpur Rajasthan Court Asaram Sexual Harassment Asaram News

Click below to see slide

Recommendation