Panther attack on forest guard

देखिए वीडियो : जब एक पैंथर ने किया वनरक्षक पर हमला

Published Date-14-Apr-2017 05:31:38 PM,Updated Date-14-Apr-2017, Written by- FirstIndia Correspondent

जोधपुर पाली जिले के सेंदड़ा वन क्षेत्र के झाड़ली मानपुरा में गाय का शिकार करने आए एक पैंथर को जान के लाले पड़ गए। जान बचाने पेड़ पर चढ़े पैंथर को ग्रामीणों ने घेर लिया। वहां पर ग्रामीणों से उसका बचाव करने वाले वनरक्षक पर पैंथर ने हमला कर उसे घायल कर दिया। बाद में जोधपुर से गए रेस्क्यू टीम ने पैंथर को बेहोश कर काबू में कर लिया गया व उसे जोधपुर लाया गया। जोधपुर रेस्क्यू टीम के डॉ श्रवण सिंह राठौर ने बताया की सेंदड़ा वन क्षेत्र में बड़ी संख्या में पैंथर निवास करते है।

 

कई बार ये भोजन की तलाश में आबादी क्षेत्र में चले आते है। ऐसे ही शुक्रवार को एक पैंथर सुबह झाड़ली मानपुरा में आया पैंथर ने एक बाड़े में बंधी गाय पर हमला कर दिया। गाय की आवाज सुन ग्रामीण एकत्र हो गए और ग्रामीणों की भीड़ पैंथर के पीछे भागी। उनसे बचने को पैंथर एक पेड़ पर जा बैठा। इसके बाद ग्रामीणों ने पेड़ को घेर लिया।

 

वहां पहुंचे वन रक्षक ने ग्रामीणों से पैंथर को बचाने का प्रयास किया, इस दौरान पैंथर ने उस पर झपट्‌टा मार घायल कर दिया। वनरक्षक के शरीर पर कई जगह पैंथर ने पंजों से जोरदार हमला बोला, उसे चार स्थान पर चोट आई, बाद में ग्रामीणों के शोर मचाने पर वह भाग निकला।

 

पैंथर को पकड़ने जोधपुर से गई रेस्क्यू टीम के विशेषज्ञ डॉ. श्रवण सिंह राठौड़ ने ग्रामीणों से घिरे पैंथर को बेहोश करने के लिए गन से एक निशाना साधा। एकदम सटीक निशाना लगते ही थोड़ी देर में यह बेहोश हो गया उसे जोधपुर के माचिया सफारी पार्क में रखा गया है। डॉ. राठौड़ ने बताया कि तीन वर्ष की यह मादा पैंथर है और एकदम स्वस्थ है। पेंथर को कुछ जगह पर चोट आई है, पेंथर का इलाज किया जा रहा है तीन चार दिन में स्वस्थ होने पर पैंथर को अरावली के जंगलों में छोड़ दिया जाएगा।

 

Rajasthan, Jodhpur, Panther, Forest department, Aravalli Range

Recommendation