remand period extended for three accused in Jailer Bittalal bribery case

जैलर बत्तीलाल घूसकांड मामला, तीनों आरोपियों की रिमांड अवधि बढ़ाई

Published Date-09-Apr-2017 07:39:31 PM,Updated Date-09-Apr-2017, Written by- FirstIndia Correspondent

कोटा। कोटा सेंट्रल जेल के जैलर बत्तीलाल घूसकांड मामले में अब दलाल अब खुलकर कबूल रहे हैं कि जैल अंदर बंद कुख्यात बदमाश अनूप पाड़िया ही वसूली नेटवर्क का सरगना है और अनूप ही जेल के अंदर से वसूली करवाता था। वसूली की रकम जैलर बत्तीलाल जेल के बाहर से दलालों के मार्फत बटौरता था। रिमांड अवधि के दौरान जैलर बत्तीलाल और दलाल राजू उर्फ हंसराज नागर व इमरान से पूछताछ में कई खुलासे हो रहे हैं।


तीनो को आज कोर्ट में अवकाश होने के कारण एसीबी मजिस्ट्रेट के आवास पर पेश किया गया, जहां से तीनों की एक बार फिर एक दिन के लिये रिमांड अवधि बढ़ा दी गई। जेलर बत्तीलाल के खिलाफ एसीबी के हाथ कई पुख्ता सबूत मिले हैं, वहीं जैल में बंद वसूली नेटवर्क का सरगना अनूप पाड़िया के खिलाफ भी कई सुराग एसीबी के हाथ लगे हैं। जल्द अनूप के खिलाफ भी एसीबी कार्रवाई कर सकती है। वहीं उसे कोटा सेंट्रल जेल से भी दूसरी जेल में शिफ्ट किया जा सकता है।

 

Kota Rajasthan Central Jail Jailer Battilal Bribery Anoop Padia Remand Rajasthan News

Recommendation