Innocent drowned in pond

पतंग लूटने के चक्कर में मासूम की तालाब में डूबने से मौत

Published Date-31-Dec-2016 03:51:12 PM,Updated Date-31-Dec-2016, Written by- FirstIndia Correspondent

नागौर। वर्ष 2016 के अंतिम दिन नागौर शहर के बक्ता सागर तालाब ने एक मासूम को लील लिया। पतंग लूटने के दौरान पैर फिसल जाने से तालाब में गिरने से हुई मौत। गोताखोरों की मदद से 1 घंटे बाद निकाला जिंदा लेकिन कुछ ही पल बाद मासूम की सांसे थम गई। 

 

बता दें कि गत 2 माह में  बक्ता सागर में डूबने की दूसरी घटना है। इस तालाब को लेकर नगर परिषद की लापरवाही सामने आई है क्योंकि गलत टेंडर प्रक्रिया के कारण चाहरदीवारी का काम अटका पड़ा है । जानकारी अनुसार आज सवेरे राठौड़ी कुआं क्षेत्र निवासी 11 वर्षीय अरमान पतंग लूटने के लिए बखता सागर की ओर गया था तालाब के किनारे गीली मिट्टी के कारण उसका पैर फिसल गया और तालाब में डूब गया । उसके साथ के लड़कों के शोर से आसपास के लोग इकट्ठा हुए। 

 

सूचना मिलने पर कोतवाली थाना पुलिस मौके पर पहुंची। गोताखोरों को इकट्ठा किया गया। करीब 1 घंटे के बाद मासूम अरमान को तालाब के बाहर निकाला गया, उस समय उसकी सांसे चल रही थी। लोगों ने उसको बचाने के प्रयास किए लेकिन बिना संसाधनों के उसने दम तोड़ दिया। इस घटना क्रम में प्रशासनिक लापरवाही सामने आई है, कोई भी प्रशासनिक नुमाइंदा मौके पर नहीं आया। गोताखोरों का प्रबंध भी घटना के 40 मिनट बाद हो पाया। एक घंटे बाद जब वह जिंदा निकला तो मौके पर 108 एंबुलेंस भी मौजूद नहीं थी।

 

Nagaur, Rajasthan, Child, Died, Police 

Recommendation