Issue of timly promotion of engineers rise in assembly

विधानसभा में उठा इंजीनियर्स की समयबद्ध पदोन्नति का मुद्दा

Published Date-20-Mar-2017 04:57:19 PM,Updated Date-20-Mar-2017, Written by- Lal Singh Fauzdar

जयपुर। विभिन्न विभागों में लगे इंजीनियर्स की समयबद्ध पदोन्नति का मामला भी आज विधानसभा में उठा। विधायक ज्ञानदेव आहूजा ने शून्यकाल में पर्ची के माध्यम से इस मुद्दे को उठाया। आहूजा ने कहा कि आरएएस और आरपीएस समेत अधिकारियों और कर्मचारियों की समयबद्ध पदोन्नति होती है, लेकिन इंजीनियर्स की समयबद्ध पदोन्नति का प्रावधान नहीं है। उन्होंने इंजीनियर्स की पदोन्नति का समय निश्चित करने के साथ ही पीडब्ल्यूडी में पदोन्नति के रिक्त 37 फीसदी पदों को भरे जाने की मांग की।


आहूजा की मांग पर आसन पर विराजमान उपाध्यक्ष राव राजेन्द्र सिंह ने कहा कि आसन मंत्री को इसके लिये बाध्य नहीं कर सकता। आहूजा ने यह भी कहा कि उन्होंने पिछली बार जो सूचना मांगी थी, वह सवा साल गुजरने के बावजूद उन्हें उपलब्ध नहीं करवाई गई है। मामले पर राज्य सरकार की ओर से हस्तक्षेप करते हुए मंत्री गुलाब चन्द कटारिया ने कहा कि इंजीनियर्स की पदोन्नति का मसला काफी विस्तृत है और इस सम्बन्ध में पूरी जानकारी जुटाकर सदस्य को अवगत करवा दिया जायेगा।


उन्होंने कहा कि पे ग्रेड 3600 से ऊपर के वर्ग के अधिकारी-कर्मचारी को डीपीसी के माध्यम से पदोन्नति दी जाती है, जबकि इससे नीचे के संवर्ग की पदोन्नति की जिम्मेदारी विभाग की होती है। कटारिया ने पदोन्नति में विलम्ब की बात स्वीकार की। वहीं पीएचईडी मंत्री सुरेन्द्र गोयल ने जानकारी देते हुए कहा कि मेरे विभाग में समयबद्ध पदोन्नति का प्रावधान नहीं है और पद रिक्त और डीपीसी के आधार पर पदोन्नति दी जाती है।

 

Jaipur, Rajasthan, Vidhan Sabha, Rajasthan Assembly, Promotion, Gyandev AhujaGulabchand Kataria

Recommendation