मंच पर पहुंच गई नन्हीं 'बालिका-वधु' और कहा - 'मैं नहीं करूंगी बाल विवाह'

Published Date 2017/04/20 15:06, Written by- Dinesh Kumar Dangi

निम्बाहेड़ा (चित्तौड़गढ़)। उड़ान व सारथी अभियान कार्यशाला के दौरान अरनोदा में 8वीं कक्षा की एक छात्रा मीना गायरी ने मंच पर पहुंचकर बाल विवाह को लेकर मार्मिक विचार व्यक्त किए, जिनसे उसने सभी को भाव—विभोर कर दिया। उसने कहा कि मेरे दादा दादी व माता पिता मेरा बाल विवाह करना चाहते हैं, किन्तु मैं ऐसा नहीं होने दुंगी। मैं आगे बढ़ना चाहती हूं और पढ़ना चाहती हूं, पढ़—लिखकर शिक्षिका बनुंगी और बाल विवाह के विरूद्ध अभियान चलाकर समाज में बदलाव लाना चाहती हूं।


जिला कलेक्टर इन्द्रजीत सिंह, जिला प्रमुख लीला जाट, एडीएम राकेश कुमार, सीओ नथमल डिंडेल आदि ने बालिका मीना का माल्यार्पण कर स्वागत किया। इस दौरान परिसर तालियों की गड़गड़ाहट से गूंज उठा। जिला कलेक्टर एवं एडीएम ने कहा कि बालिका की भावनाएं अनुकरणीय है, इस बालिका के उच्च शिक्षा के लिए प्रशासनिक स्तर पर हर संभव मदद दी जाएगी।

 

Chittorgah Nimbahera Rajasthan Balika Vadhu Bal Vivah Child Marriage Rajasthan News

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

Stories You May be Interested in


Most Related Stories


-------Advertisement--------



-------Advertisement--------