archaeological importance in havelis of Shekhawati would not be break

शेखावाटी में पुरातात्विक महत्व की हवेलियों को नहीं तोड़ने के जारी होंगे निर्देश

Published Date-17-Mar-2017 08:50:08 PM,Updated Date-17-Mar-2017, Written by- Lal Singh Fauzdar

जयपुर। शेखावाटी की हवेलियां जिनमें भित्तिचित्र लगे हैं और जो पुरातात्विक महत्व की हैं, उन्हें तोड़े नहीं जाने के लिए सरकार कलेक्टर्स को निर्देशित करेगी। विधानसभा में आज प्रश्नकाल में दर्शन सिंह के मूल सवाल और अन्य पूरक सवाल के जवाब में संसदीय कार्य मंत्री राजेन्द्र राठौड़ ने यह बात कही। राठौड़ ने यह भी आश्वासन दिया कि अगर आभानेरी में बस सेवा संचालन की जरूरत हुई तो विभागीय प्रक्रिया करके इस काम को किया जाएगा।


दर्शन ने मुद्दा उठाते हुए कहा कि पर्यटन के लिहाज से देश में राजस्थान का स्थान छटे पायदान पर पहुंच चुका है। दर्शन सिंह ने आरोप लगाया कि सरकार का ध्यान रणथम्भौर और होटल खासाकोठी सहित अन्य अभयारण्यों को निजी हाथों में देने में है। हालांकि संसदीय मंत्री ने आरोपों को बेबुनियाद करार देते हुए कहा कि सरकार ने इस साल पर्यटन का बजट 22 प्रतिशत से अधिक इजाफा किया है। वहीं निर्दलीय विधायक नंदकिशोर मेहरिया ने शेखावटी इलाकें में हेरिटेज हवेलियों को तोडकर बाजार बनाने की ओर सरकार का ध्यान आकर्षित किया, जिसे रोकने का मंत्री राजेन्द्र राठौड़ ने आश्वासन दिया।


राठौड़ ने पर्यटन के लिए 22.37 फीसदी बजट बढ़ोतरी की बात कही। साथ ही कहा कि जयपुर, जोधपुर, बीकानेर में इंट्रास्टेट हवाई सेवा शुरू की है। सवाई माधोपुर, जैसलमेर को हवाई सेवा से जोड़ा जा रहा है। उन्होंने कहा कि जयपुर आगरा और बीकानेर को हवाई सेवा से जोड़ा जा रहा है। विधायक रणधीर सिंह भिण्डर ने सारे पर्यटकों के 69 फीसदी के ही राजस्थान में आने और 2.7 फीसदी देशी पर्यटक के ही राजस्थान आने की बात कही।

 

Jaipur, Rajasthan, Vidhan Sabha, Rajasthan Assembly, Shekhawati, Rajendra Rathore, Havelis

Recommendation