dholpur vidhan sabha upchunav bjp aur congress ki liye seat nikalna pratishtha ka sawal

धौलपुर विधानभा उपुचनाव: भाजपा और कांग्रेस के लिए सीट निकालना प्रतिष्ठा का सवाल

Published Date-18-Mar-2017 04:25:01 PM,Updated Date-18-Mar-2017, Written by- Dinesh Kumar Dangi

जयपुर| धौलपुर विधानसभा उपचुनाव को लेकर सरगर्मियां तेज हो चुकी है| कांग्रेस ने एक बार फिर दस बार विधानसभा का चुनाव लड़ चुके बनवारीलाल शर्मा पर दांव खेला है| 1993 में शर्मा सीएम वसुंधरा राजे को करीब चार हजार वोटों से चुनाव हरा चुके हैं| ऐसे में शर्मा के मैदान में उतरने से मुकाबला रोचक हो गया है| शर्मा सोमवार को अपना नामांकन दाखिल करेंगे|

 

कांग्रेस और भाजपा दोनों के लिए यह सीट निकालना सियासी नजरिए से काफी अहम हो गया है| लिहाजा दोनों दल ताकत झोंक देंगे| जहां तक जातिगत समीकरणों की बात की जाए तो इस सीट पर करीब एक लाख 80 हजार मतदाता है, जिनमे से करीब 32 हजार कुशवाह समाज के वोट है| इसलिए भाजपा ने शोभारानी कुशवाह को प्रत्याशी बनाया है| कुशवाह समाज के बाद 28 से 30 हजार ब्राहम्ण मतदाता है| 13 हजार मुस्लिम और करीब 8 हजार गुर्जर मतदाता है| ऐसे में एससी समाज के 28 हजार मतदाता जिसके पाले में जाएंगे उसकी जीत हो सकती है|

 

बनवारी शर्मा अपना अंतिम चुनाव बताते हुए और एससी वोटों में सेंध लगाते हुए जीत की रणनीति तैयार कर रहे हैं| वहीं खुद पीसीसी चीफ सचिन पायलट के लिए यह सीट निकालना प्रतिष्ठा का सवाल होगी| लिहाजा पायलट ने करीब 50 से ज्यादा पार्टी नेताओं को धौलपुर जाने के निर्देश दिए हैं| वहीं सीएम वसुंधरा राजे के लिए भी सीट निकालना प्रतिष्ठा का सवाल है| लिहाजा अप्रेल के पहले सप्ताह राजे धौलपुर में चुनावी सभा भी करने जा रही है|

 

RajasthanDholpurDholpur Vidhan sabha electionCity CouncilBJP, CongressGovernmentVote 

Click below to see slide

Recommendation