जिला मुख्यालय पर लोगों ने किया नगर निगम के खिलाफ प्रदर्शन

Published Date 2016/07/01 18:05, Written by- FirstIndia Correspondent

अजमेर। शहर में अगले महीने होने वाले मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के दौरे को लेकर प्रशासन तैयारियों में जुटा हुआ है, ताकि शहर में व्यवस्था को लेकर सीएम की नाराजगी नहीं झेलनी पड़े। यही वजह है कि बरसों से बिगड़ी शहर की समस्या का निपटारा करने में प्रशासन जुट गया है और अपने पहले प्रयास में प्रशासन ने शहर में कुछ क्षेत्र को नॉन वेंडर जॉन घोषित किया।

 
वहीं तत्त्काल नॉन वेंडर जॉन एरिये से उन गरीब वर्ग के लोगों को भी अतिक्रमण मानकर हटा दिया, जो सड़क किनारे रेहड़ी—थड़ी और फुटपाथ पर सब्जी बेचते थे। प्रशासन ने इन छोटे अतिक्रमियों को रोजगार के लिए दूसरी कोई जगह नहीं दी। लिहाजा, 50 से भी अधिक परिवार का रोजगार छीन गया है। अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई में गरीबों का सामान नगर निगम ने जब्त कर लिया।

 
इसी को लेकर, नॉन वेंडर क्षेत्र घोषित होने से बेरोजगार हुए गरीब लोग जिला कलक्टर से मिलने रैली के रूप में पहुचे। लोगों में बेरोजगार होने का दुःख और रोजगार से बेदखल करने की नाराजगी थी। इस दौरान लोगों ने नगर निगम के खिलाफ जमकर प्रदर्शन किया। अतिरिक्त कलक्टर अरविन्द सिंघवा के सामने लोगों ने हाथ जोड़कर रोजगार के लिए अन्य कोेई जगह देने की गुहार लगाई।

 

Ajmer, Nagar Nigam Ajmer, Protest, Municipal Corporation

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

Stories You May be Interested in


Most Related Stories


-------Advertisement--------



-------Advertisement--------