Roadways worker on strike

लोक परिवहन बस के विरोध में रोडवेजकर्मी हड़ताल पर

Published Date-06-Oct-2016 04:01:52 PM,Updated Date-06-Oct-2016, Written by- FirstIndia Correspondent

टोंक| सरकार के निजी बसों कों रोडवेज में जोडने के फैसलें के विरूद्ध एक बार फिर से रोडवेजकर्मी हड़ताल पर चले गए, लेकिन अचानक हड़ताल होने के फैसलें का सबसे बडा असर यात्रियों पर पड़ा| जिन्हे आज सुबह तक कोई सूचना नही थी कि रोडवेजकर्मी हड़ताल पर और बस स्टेण्ड पर उन्हे हड़ताल के बारे मे जानकारी मिली| टोंक मे भी करीब नौ बजे रोडवेजकर्मियों ने अचानक हड़ताल  की घोषणा करते हुये अपने वाहन साईड मे लगा दिये| जिससे बस स्डेण्ड खाली नजर आया|

 

वहीं आज सुबह बस स्टेण्ड पर खडी रोडवेज बस को सरकार द्वारा चलाई जा रही निजी क्षेत्र की लोक परिवहन बस द्वारा टक्कर मारने से भी मामला गर्मा गया| जिससें के बाद रोडवेज कर्मियों हंगामा कर दिया और सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुये लोक परिवहन सेवा को बंद कराने की मांग करने लगे| हम आपकों बता दे पिछले साल राज्य सरकार ने रोडवेज सेवा का निजीकरण करते हुये लोक परिवहन बसों का संचालक शुरू किया था|

 

जिसके बाद से लगातार रोडवेजकर्मी और सरकार के बीच बैठकों का दौर चल रहा है लेकिन कर्मचारियों का आरोप है कि सरकार अपनी हठधर्मिता के चलते रोडवेज का निजी हाथों मे देना चाहती है| रोडवेज सेवा कर्मचारियों द्वारा शुरू की गई सेवा है, जिससें निजी हाथों मे देने का सरकार को कोई हक नहीं है| हर साल घाटे मे चल रोडवेज सेवा कों उबारने की बजाय राज्य इसे बंद कर निजी हाथों मे देना चाहती है| जिसका विरोध रोडवेजकर्मी करते रहेंगे| वही गुरूवार सुबह अचानक हड़ताल के घोषणा होने से बस स्टेण्ड पहुंचे लोग खासे नाराज दिखाई दिये| जबकि टोंक रोडवेज प्रबंधन द्वारा कोई वैकल्पिक व्यवस्था नही होने से भी यात्री निजी वाहनों मे यात्रा करने पर मजबूर हो रहे है।

 

Roadways Worker, Strike, Rajasthan, Tonk

Recommendation