Health Minister Kalicharan Saraf Offended Over a Question about RSS

आरएसएस के सवाल पर उखड़े कालीचरण सराफ, कहा - क्या है संघ, क्यों लाते हो हर बार बीच में?

Published Date-03-Jan-2017 06:59:33 PM,Updated Date-03-Jan-2017, Written by- Lal Singh Fauzdar

जयपुर। भाजपा मुख्यालय पर मंत्री दरबार में पत्रकारों से बात करते हुए चिकित्सा मंत्री कालीचरण सराफ तैश में आ गए। वीसी की नियुक्ति पर हाइकोर्ट की तल्ख टिप्पणी के बाद कालीचरण ने कहा कि यह बात सही है कि उनके कार्यकाल में ही सिंघल की नियुक्ति हुई थी, लेकिन साथ ही उस समय लिये गए फ़ैसले का बचाव करते हुए चिकित्सा मंत्री ने कहा कि जैसे पहले जस्टिस वेदप्रकाश और वीवी जॉन कुलपति बने थे, उसी तरह से जेपी सिंघल भी कुलपति बने।


हालांकि सराफ ने हाईकोर्ट के फ़ैसले पर तो टिप्पणी करने से इनकार कर दिया, लेकिन उन्होंने कहा कि सिंघल से पहले भी ऐसे कुलपति रहे हैं, जिन्होंने डॉक्टरेट नहीं की। बाद में सराफ ने यह भी कहा कि वे कोर्ट के फ़ैसले का पूरा सम्मान करते हैं, मगर वीसी की नियुक्ति में संघ के दखल की बात पर मंत्री सराफ नाराज हो गए।


संघ से जुड़े एक सवाल के जवाब पर मंत्रीजी तैश में आ गए और यहां तक कह डाला कि, 'क्या है संघ, हर आर संघ को बीच में क्यों ले आते हो, संघ एक गैर राजनीतिक संगठन है।' वहीं संगठन महामंत्री पर भी सराफ ने कहा कि, 'जरुरी नहीं है संगठन महामंत्री संघ से ही आए, मैं भी बन सकता हूं।' वहीं सराफ ने विधायक घनश्याम तिवाड़ी के बागी तेवरों पर कहा कि पार्टी पर इसका कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा।

 

 

Jaipur Rajasthan Health Minister Kalicharan Saraf BJP JP Singhal Rashtriya Swayamsevak Sangh

Click below to see slide

Recommendation