kataria did not arrive in debate with archana sharma

बहस की चुनौती पर कांग्रेस की ओर से पहुंची अर्चना शर्मा, नहीं आए कटारिया, किसी अनुभवी नेता से करेंगे बहस

Published Date-27-Dec-2016 08:27:08 PM,Updated Date-27-Dec-2016, Written by- Lal Singh Fauzdar

जयपुर। प्रदेश में कानून व्यवस्था को लेकर भाजपा—कांग्रेस में जुबानी जंग छिडी हुई है। इस बीच गृहमंत्री गुलाबचंद कटारिया की ओर से कांग्रेस को दी जा रही बहस की चुनौती को कांग्रेस पार्टी ने स्वीकार कर लिया है। इसके बाद अब कांग्रेस उपाध्यक्ष व मीडिया सेंटर की चेयरपर्सन डॉ. अर्चना शर्मा अन्य नेताओं के साथ पिंकसिटी प्रेस क्लब में कटारिया का इंतजार करती रही। उनके साथ पार्टी के जिलाध्यक्ष प्रतापसिंह खाचरियावास भी मौजूद रहे।


प्रेस क्लब में ​होने वाली बहस को लेकर अर्चना शर्मा तय समय पर प्रेस क्लब पहुंची, मगर कटारिया नहीं पहुंचे। अर्चना ने कटारिया को मोबाइल पर मैसेज कर बहस में आने के लिए कहा। इस पर कटारिया ने मोबाइल पर अर्चना को बहस के लिए कांग्रेस के किसी अनुभवी नेता से बहस की बात कही। गौरतलब है ​कि सार्वजनिक मंचों से कई बार कटारिया कांग्रेस को बहस की चुनौती दे चुके हैं। 


अर्चना शर्मा ने कहा कि भाजपा सरकार में कानून व्यवस्था बिगड़ चुकी है, कोई भी नेता बहस नहीं करना चाहता। वहीं कटारिया कह चुके हैं कि किसी अनुभवी नेता से बहस को तैयार है। वहीं भाजपा सरकार के मंत्री भी कटारिया के साथ खड़े हैं। शिक्षा मंत्री वासुदेव देवनानी ने कहा कि कटारिया अपनी बात पर अड़िग रहने वाले नेता हैं, मगर बहस के लिए कांग्रेस को किसी अनुभवी नेता को भेजना चाहिए।

 

Jaipur Rajasthan Home Minister Gulab Chand Kataria BJP Congress Archana Sharma Vasudev Devnani

Click below to see slide

Recommendation