Kiranmay nanda says different signatures of mulayama spark forgery in SP

मुलायम के फर्जी साइन कर जारी किए गए आदेश: किरणमय नंदा

Published Date-03-Jan-2017 10:35:28 AM,Updated Date-03-Jan-2017, Written by- FirstIndia Correspondent

समाजवादी पार्टी में चल रहा आपसी दंगल अभी खत्म भी नही हुआ कि एक और अब नई मुसीबत आन पड़ी है| इन दिनों पार्टी में सपा के कब्जे को लेकर जारी जंग के बीच अब साइन को लेकर भी नया विवाद खड़ा हो गया है| मुलायम सिंह द्वारा समाजवादी पार्टी से निकाले गए पुराने भरोसेमंद किरणमय नंदा ने आरोप लगाया है कि 1 जनवरी को जारी दो पत्रों में मुलायम सिंह यादव के दस्तखत अलग-अलग हैं|  


 
गौरतलब है कि 1 जनवरी को अखिलेश गुट ने लखनऊ में अधिवेशन कर अखिलेश यादव को सपा अध्यक्ष बनाने का ऐलान किया था| इसके बाद मुलायम सिंह यादव ने इस अधिवेशन को असंवैधानिक बताते हुए दो नेताओं किरणमय नंदा और नरेश अग्रवाल को पार्टी से निकालने का आदेश जारी किया था और कहा था कि सपा के अध्यक्ष अभी मुलायम सिंह ही हैं| अब किरणमय नंदा के इस बयान से मामले ने नया मोड़ ले लिया है|

 

दूसरी ओर सपा के चुनाव चिन्ह साइकिल को लेकर लड़ाई चुनाव आयोग पहुंच गई है| सोमवार को मुलायम सिंह यादव ने चुनाव आय़ोग जाकर अपनी स्थिति स्पष्ट की| मंगलवार को अखिलेश यादव भी चुनाव आयोग से मिलने जा रहे हैं|

 

Bihar, Samajwadi party, Akhilesh yadav, Mulayam singh, Party symbol, Kiranmay nanda, Forgery

Click below to see slide

Recommendation