Opposition parties observing black day after one month of demonetisation

नोटबंदी का एक महीना पूरा होने पर बोले राहुल, कहा- मौन रहकर मनाएंगे 'ब्लैक डे'

Published Date-08-Dec-2016 11:03:26 AM,Updated Date-08-Dec-2016, Written by- FirstIndia Correspondent

आज नोटबैन लागू हुए एक महीने हो गए। संसद परिसर में नोटबंदी के एक महीने पूरे होने पर विपक्ष विरोध प्रदर्शन कर रहा है। इस दिन को विपक्ष 'ब्लैक डे' (काला दिवस) के नाम पर मना रहा है। मोदी सरकार के इस फैसले का कांग्रेस समेत तमाम विपक्षी दल विरोध कर रहे हैं| संसद परिसर में विपक्षी नेताओं ने काली पट्टी बांधकर विरोध जताया| इस मौके पर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर कड़ा प्रहार करते हुए कहा कि पीएम नोटबंदी के मामले पर संसद में चर्चा से बचने के लिए भाग रहे हैं और हम उन्हें भागने नहीं देंगे|

 

राहुल गंधही ने कहा कि पहले मोदी जी ने ब्लैक मनी की बात की और अब भागकर कैशलेस इकॉनमी पर आ गए|  पीएम मोदी हंस रहे हैं, अच्छा टाइम स्पेंड कर रहे हैं वहीं देश के लोग परेशान हो रहे हैं|  पेटीएम दरअसल 'पे टु पीएम' है। इससे कुछ खास लोगों को ही फायदा होगा| नोटबंदी ने मजदूरों और किसानों को बर्बाद कर दिया है। हम बहस चाहते हैं, वोटिंग चाहते हैं लेकिन सरकार ऐसा नहीं चाहती| यह साहसिक नहीं मूर्खतापूर्ण फैसला है| राहुल गांधी ने कहा कि सरकार खुद स्पष्ट नहीं है कि उन्होंने नोटबंदी का फैसला किसलिए लिया| पहले कहा कि आतंकवादियों को मिल रहे पैसे को रोकने के लिए लेकिन आतंकियों के पास से नए नोट मिल रहे हैं| 

 

आपको बता दें कि विपक्षी दलों का आरोप है कि सरकार के इस फैसले से देश को और खासकर आम लोगों को बड़ी दिक्कतें हुई हैं| कांग्रेस का आरोप है कि नोटबंदी के बाद अब तक 84 लोगों की लाइनों में मौत हो चुकी है| विपक्षी दल नोटबंदी के एक महीने पूरे होने के मौके पर गुरुवार को ब्लैक डे मना रहे हैं|

 

नोटबंदी के फैसले के खिलाफ विपक्ष के अधिकांश दल एकजुट हैं| सुबह विपक्षी दलों के सांसदोंं ने संसद परिसर में गांधी स्टैट्यू के बास काली पट्टी बांध कर विरोध जताया| संसद के अंदर भी हंगामा जारी रह सकता है| विपक्ष नोटबंदी पर चर्चा के साथ-साथ वोटिंग की भी मांग कर रहा है|

 

Opposition Parties, Black Day, Demonetisation, Notebandi, Rahul Gandhi, Modi

Recommendation