PM मोदी ने किया विजय माल्या के करोड़ों का लोन माफ: राहुल गांधी

Published Date 2016/12/24 17:07, Written by- FirstIndia Correspondent

धर्मशाला। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा में एक रैली को संबोधित किया| राहुल गांधी ने एक बार फिर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला है। राहुल गांधी ने यहां पीएम मोदी को निशाना बनाते हुए कहा कि नोटबंदी देश के गरीबों के खिलाफ हैं। नोटबंदी हिंदुस्‍तान के गरीब, किसान, मिडिल क्‍लास के खिलाफ एक कदम है। राहुल ने कहा कि मोदी जी ने आपने एचपी की हैट उतार दी, नोटबंदी ने हॉर्टिकल्‍चर, एग्रीकल्‍चर और ट्यूरिज्‍म को जबरदस्‍त चोट पहुंचाई है।

 

राहुल ने कहा कि मोदीजी ने हिमाचल प्रदेश की टोपी उतार दी है. नोटबंदी से बागवानी, कृषि और पर्यटन को भारी नुकसान पहुंचा है| मध्य प्रदेश, झारखंड और छत्तीसगढ़ में बीजेपी की सरकार है, वहां आदिवासियों से जमीन छिन ली गई. राहुल ने कहा कि हिंदुस्तान में सिर्फ 6 प्रतिशत काला धन कैश के रूप में है, बाकी 94 प्रतिशत काला धन रियल एस्टेट, सोना और विदेश बैंकों में है| स्विस बैंक की दी हुई लिस्ट संसद में क्यों नहीं रखी गई|

 

राहुल ने कहा कि नोट का कोई रंग नहीं होता| एक तरफ ईमानदारी तो दूसरी तरफ बेईमान लोग है| अगर नोट बेईमान के हाथ में गया तो वो जादू से काला हो जाता है. जब मैं सवाल पूछ रहा हूं तो मोदीजी मेरा मजाक उड़ा रहे हैं. जितना भी मजाक उड़ाना है उड़ा दीजिए पर जवाब दे दीजिए| राहुल ने कहा कि लाइन में लगे लोगों को बीजेपी ने लड्डू दिए| लोगों को 3 रुपये का लड्डू और माल्या को 1200 करोड़ का लड्डू खिलाया|

 

आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाने के मामले में राहुल गांधी की निंदा करते हुए बीजेपी ने कहा कि कांग्रेस उपाध्यक्ष काले धन के खिलाफ लड़ाई को केवल कमजोर करने के लिए निराधार एवं अनावश्यक बयानबाजी कर रहे हैं| शाहनवाज हुसैन ने कहा कि देश प्रधानमंत्री मोदी के कदमों के कारण काले धन के खिलाफ अपनी लड़ाई में आगे बढ़ रहा है| उन्होंने भारत को कांग्रेस मुक्त पहले की बना दिया है और अब वह देश को भ्रष्टाचार मुक्त भी बनाना चाहते हैं|

 

Congress, BJP, Rahul Gandhi, Narendra Modi, Demonetisation, Himachal Pradesh

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

Stories You May be Interested in


Most Related Stories


-------Advertisement--------