Jesus christ s tomb opened for 60 hours after 200 years in israel

200 साल बाद सिर्फ 60 घंटे के लिए खुला ईसा का यह मकबरा

Published Date-08-Nov-2016 11:43:26 AM,Updated Date-08-Nov-2016, Written by- FirstIndia Correspondent

इजरायल के यरुशलम में ईसा मसीह का करीब 200 साल पुराना मकबरा बना है। यह चर्च ऑफ द हॉली स्पल्चर नाम से काफी फेमस है। इस चर्च को लेकर मान्‍यता है कि इसी में 33वीं ईसवी में ईसा मसीह को दोबारा जीवित होने से पहले दफनाने के लिए रखा गया था। ऐसे में हाल ही में यह मकबरा अभी खोला गया है। हालांकि इसे बस 60 घंटे ही खोलने की अनुमति मिली है। ग्रीक शोधकर्ताओं का कहना है कि यह चर्च काफी समय पहले क्षतिग्रस्‍त है। 1927 के भूकंप में छतिग्रस्त हुए इस चर्च को दोबारा मरम्‍मत कराने की मांग हो रही थी, लेकिन इसकी परमीशन नहीं मिल रही थी।

 

हालांकि लगातार प्रयासों से काफी मुश्‍िकल के बाद ईसाई संस्‍थाओं ने इसकी इजाजत दी है। जिससे अब इसमें मरम्‍मत कार्य काफी तेजी से चल रहा है क्‍योंकि इसे एक निश्‍चित समय में बंद भी करना है। सबसे खास बात तो यह है कि इस मकबरे के ऊपर 1810 में पवित्र चट्टान पर संगमरमर की पट्टी रखी गई थी। ऐसे में जब इसे खोलने के लिए संगमरमर की चट्टान हटाई गई तो काफी हैरान करने वाले द्श्‍य दिखे। यहां पर कई ईसाई धर्मगुरु और श्रद्धालु भी दिखे। वहीं जो भी 200 साल बाद इस मकबरे के खोले जाने की बात सुनता है तो कुछ पलों के लिए हैरान हो जाता है।

 

Jesus Christ Tomb, Jesus Christ, Church Of Holy Sepulcher, Israel, Israel Jesus Christ

Click below to see slide

Recommendation