आखिर नवरात्रि में क्यों नहीं खाया जाता अन्न, जानिए...

Published Date 2016/10/07 12:56, Written by- FirstIndia Correspondent

नवरात्रि पर देवी पूजन और नौ दिन के व्रत का बहुत महत्व है। मां दुर्गा के नौ रूपों की अराधना का पावन पर्व शुरू हो रहा है। इन नौ दिनों में व्रत रखने वालों के लिए कुछ नियम होते हैं। इससे जुड़े महत्वपूर्ण नियमों में से एक है नौ दिनों तक अन्न न खाना और इसी के साथ ही प्याज-लहसुन, शराब और नॉन वेज भी का भी परहेज बताया गया है। धार्मिक मान्यताओं की मानें तो व्रत करने से शरीर शुद्ध और मन साफ होता है। इसी वजह से इंसान भगवान की साधना शांति से कर पाता है। ऐसे करने से उसकी इच्छाशक्ति भी प्रबल होती है

 

नवरात्रि के दिन नौ दिन व्रत करने वाले लोग हों या फिर सिर्फ दो दिन का व्रत करने वाले। इस व्रत में सिर्फ फलाहारी का सेवन करना ही अनिवार्य बताया गया है।व्रत रखने वाले लोग फल, जूस, दूध और मावा की बनी मिठाई खाते हैं। इस दौरान सेंधा नमक का सेवन भी किया जा सकता है। कुट्टू का आटा और साबूदाने की बनी चीजों को भी खाना लोग पसंद करते हैं।

 

धार्मिक ही नहीं व्रत-उपवास के महत्व को सांइस भी मानता है। साल में दो बार आने वाली नवरात्रि के दौरान मौसम बदल रहा होता है और बदलते मौसम में शरीर को रोगमुक्त रखने के लिए अगर नौ दिन के व्रत करना लाभकारी होता है।

 

Navratri, Religious, Solid, Food, Eat

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

Stories You May be Interested in


Most Related Stories


-------Advertisement--------



-------Advertisement--------