after demonetization now modi keynote app comes in social media

मोदी की नोट बंदी के बाद अब सुर्खियों में आई 'मोदी कीनोट'

Published Date-20-Nov-2016 03:17:26 PM,Updated Date-20-Nov-2016, Written by- FirstIndia Correspondent

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा 500 और 1000 रुपए के नोटों का विमुद्रीकरण किए जाने के बाद से देशभर में तरह—तरह की चर्चाओं का दौर चल रहा है। इसी कड़ी में नोटबंदी को लेकर सोशल मीडिया में भी शुरू हुआ चर्चाओं का सिलसिला लगातार जारी है। इसी बीच नोट बंदी के बाद अब पिछले दो दिनों से एक नई चर्चा ने जोर पकड़ा है, जो सुनने में थोड़ी अजीब जरूर लगती है, लेकिन इसकी चर्चा सोशल मीडिया में जोरों पर हैं।


नोटबंदी के बाद शुरू हई विभिन्न चर्चाओं के बाद अब पिछले दो दिन से एक ऐप 'मोदी कीनोट' की चर्चाएं सुर्खियों में चल रही है। 25 एमबी की इस ऐप को गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा रहा है। डाउनलोड के बाद इस ऐप में जब 500 रुपए या 2000 रुपए के नए नोट को स्कैन किया जाता है, तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का भाषण चलता हुआ दिखाई देने लगता है। नोट के ऊपर चलता हुआ दिखाई देने वाला पीएम मोदी के ये भाषण अंग्रेजी में है।


इस ऐप को केवल एंड्राएड वर्जन के लिए तैयार किया गया है। एप्पल स्टोर में इसको डाउनलोड करने का कोई प्रावधान नहीं है। वैसे तो प्रधानमंत्री का कोई भी भाषण यू-ट्यूब पर देखा जा सकता है, लेकिन नोट को स्कैन करने के बाद चलने वाले भाषण पर सोशल मीडिया में अलग-अलग कमेंट्स आ रहे हैं।


सोशल मीडिया में पिछले दो दिन में ही 'मोदी कीनोट ऐप' इस कदर सुर्खियों में है कि इसे सुनने के बाद हर कोई इसे डाउनलोड कर इस्तेमाल करके देखना चाहता है कि आखिर माजरा क्या है। ऐसे में इस ऐप को अब तक लाखों लोग डाउनलोड कर चुके हैं। वहीं इसके डाउनलोड की संख्या में लगातार इजाफा होता जा रहा है।


वहीं दूसरी ओर, इस ऐप को डाउनलोड करने के लिए परेशान तो एप्पल आई-फोन वाले हो रहे हैं, क्योंकि वे भी जैसे तैसे अपने आई-फोन पर इस ऐप को डाउनलोड करने के प्रयासों में जुटे ​हुए हैं। लेकिन इस ऐप का एप्पल स्टोर वर्जन नहीं होने के कारण वे इसे डाउनलोड नहीं कर पा रहे हैं। ऐसे में वह अपने जानने वाले लोगों के एंड्राएड फोन में ऐप को डाउनलोड कर ट्राई कर रहे हैं।


प्ले स्टोर के डाउनलोड सेक्शन में कोई इस ऐप को सिर्फ फन के लिए बता रहा है, तो कोई इस ऐप को नोट के सिक्योरिटी फीचर से जुड़ा हुआ बता रहा है। इतना ही नहीं, सोशल मीडिया में तो यह भी चर्चा है कि जिस नोट को स्कैन करने के बाद प्रधानमंत्री का भाषण नहीं चलेगा, वह नोट नकली है। 


हालांकि, इन चर्चाओें में सच्चाई कितनी है, इसके बारे में तो कुछ नहीं कहा जा सकता, लेकिन इतना जरूर है कि इस ऐप में ऐसा कुछ जरूर है, जिससे 500 या 2000 रुपए के नए नोट को ऐप के जरिये स्कैन करने के बाद नोट के ऊपर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का वहीं भाषण प्ले होने लगता है, जिसमें उन्होंने 500 और 1000 रुपए के नोटों को बंद किए जाने की घोषणा की थी।

 

PM Narendra Modi PM Modi Demonetization 500  Rs Notes 1000 Rs notes 2000 Rupees Modi Keynote App

और देखने के लिए नीचे की स्लाइड क्लिक करें

Recommendation