Are you also use any of these 4 apps government suggest to remove

क्या आप भी यूज कर रहे हैं इन 4 ऐप्स में से कोई ऐप, सरकार ने तुरंत हटाने का दिया सुझाव

Published Date-14-Dec-2016 04:38:45 PM,Updated Date-14-Dec-2016, Written by- FirstIndia Correspondent

नई दिल्ली। क्या आप जानते है कि आपके स्मार्टफोन में इस्तेमाल की जा रही कोई ऐप आपकी जासूसी कर रही है और जासूसी का ये काम भी पाकिस्तान के लिए किया जा रहा है, जो आपको कभी भी किसी बढ़ी परेशानी में डाल सकता है। ऐसे में होम मिनिस्ट्री ने इन ऐप को लेकर अलर्ट जारी किया है।


केंद्रीय गृहमंत्रालय ने एक अलर्ट जारी करते हुए कहा है कि अगर आप खासकर ये चार ऐप इस्तेमाल कर रहे हैं, तो इन ऐप्स को तुरंत अपने फोन से हटा लीजिए। सरकार को डर है कि इन ऐप से वायरस भेजकर पाकिस्तान जासूसी करा रहा है। इसके अलावा साइबर फ्रॉड का भी खतरा है।


इन चार ऐप्स में गेम ऐप, म्यूजिक ऐप, वीडियो ऐप और एक एंटरटेनमेंट ऐप है और इन ऐप्स के नाम 'टॉप गन', 'एमपीजुंक', 'बीडीजुंकी' और 'टॉकिंग फ्रॉग' हैं। अगर आप इनमें से किसी भी ऐप का इस्तेमाल कर रहे हैं, तो गृहमंत्रालय ने इन्हें तुरंत हटा लेने की सलाह दी है।


दरअसल पाकिस्तानी एजेंसियां भारत में मोबाइल ऐप में मलवेयर वायरस भेजकर जासूसी कर रही हैं। गृह मंत्रालय को इस जानकारी की पुख्ता रिपोर्ट मिलते ही देश के सभी सुरक्षा बलों और राज्यों की खुफिया एजेसियों को पत्र लिखकर कुछ विशेष मोबाइल ऐप डाउनलोड नहीं करने के निर्देश दिए गए हैं।


इसके अतिरिक्त पूर्व सैनिकों को नौकरी के नाम या वित्तीय सहायता की आड़ में जासूसी के प्रयास में फंसाने के मामले में देशभर से सात मामले सामने आने के बाद इसे लेकर भी अलर्ट रहने के निर्देश दिए हैं। गृह मंत्रालय के अनुसार इन ऐप में पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी वायरस भेजकर जानकारियां हासिल कर रही हैं।


सरकार को शक है कि पाकिस्तान जासूसी के लिए मोबाइल ऐप्स का सहारा ले रहा है। पाकिस्तानी ख़ुफ़िया एजेंसियां भारतीय स्मार्टफोन्स में फर्जी ऐप्स के जरिए मालवेयर वायरस भेजकर जासूसी कर रही हैं। इसके अलावा पाकिस्तानी हैकर्स इन एप्स के जरिए आपका पर्सनल डाटा चुराकर साइबर फ्रॉड को भी अंजाम दे सकते हैं।

 

New Delhi Home Ministry Rajnath Singh Smartphones Apps Top Gun Spy Talking Frog

Click below to see slide

Recommendation