Making Green Corridor for a liver transplant in Bhopal

भोपाल में लिवर प्रत्यारोपण के लिए बना ग्रीन कॉरीडोर

Published Date-18-Nov-2016 03:46:13 PM,Updated Date-18-Nov-2016, Written by- FirstIndia Correspondent

भोपाल। मध्य प्रदेश में चिकित्सा के क्षेत्र में शुक्रवार को नया इतिहास रचने के लिए इंदौर से हवाई मार्ग से लाए गए लिवर को स्टेट हेंगर से रेडक्रॉस अस्पताल ले जाने के लिए ग्रीन कॉरीडोर बनाया गया। इस ग्रीन कॉरीडोर का 13 किलोमीटर लंबा रास्ता एंबुलेंस ने 13 मिनट में पूरा किया। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (यातायात) समीर यादव ने शुक्रवार को आईएएनएस को बताया "बुरहानपुर निवासी सुनील (42) को इंदौर के चिकित्सकों ने ब्रेन डेड घोषित कर दिया था, इस पर उनके परिजनों ने अंगदान की इच्छा जताई थी, उसी के चलते सुनील के लिवर को सुबह साढ़े सात बजे विशेष चार्टड प्लेन से इंदौर से भोपाल लाया गया।"

 

यादव ने आगे बताया, "लिवर को एंबुलेंस के जरिए स्टेट हेंगर से रेडक्रास अस्पताल तक लाने के लिए ग्रीन कॉरीडोर बनाया गया, इस काम में 120 पुलिस कर्मी और अधिकारी तैनात थे। रास्ता रोक दिया गया, जिसके चलते एंबुलेंस ने 13 किलोमीटर का रास्ता 13 मिनट में पूरा किया। राज्य में लिवर प्रत्यारोपण पहली बार किया जा रहा है।" सूत्रों का कहना है कि सुनील का लिवर राजधानी के एक निजी अस्पताल में भर्ती महिला को प्रत्यारोपित किया जाना है, लिवर प्रत्यारोपण का कार्य रेडक्रॉस अस्पताल में होना है, जहां विशेषज्ञों का दल लिवर प्रत्यारोपण की शल्यक्रिया को अंजाम देगा।

 

Bhopal Liver Transplant Green Corridor

Recommendation