Play Tv

Breaking News

fatal attack on a sarpanch in tonk

सरपंच पर जानलेवा हमले की वारदात ने लगाए पुलिस कार्यशैली पर सवालिया निशान

Published Date-05-Jan-2017 02:21:07 PM,Updated Date-05-Jan-2017, Written by- FirstIndia Correspondent

टोंक। राजस्थान पुलिस भले ही आमजन मे विश्वास और अपराधियों मे डर के नारे हरदम दम भरती हो, लेकिन टोंक जिले में पुलिस की कार्यशैली पर लगातार सवालिया निशान खड़े हो रहे हैं। टोंक में पुलिस की लापरवाह कार्यशैली के कारण अपराधियों के हौंसले इतने बुलन्द हो गए हैं कि वह दिन-दहाड़े आम जनता तो क्या अब जनप्रतिनिधियों को भी निशाना बनाने से नहीं चूक रहे हैं।

 

ऐसा ही कुछ नजारा आज उस वक्त देखने को मिला, जब टोंक के कोतवाली थानाक्षेत्र के आदर्श नगर में रहने वाले सरपंच संघ जिलाध्यक्ष हंसराज धाकड़ पर करीब आधा दर्जन से ज्यादा हथियारबंद लोगों ने जानेलवा हमला कर घायल कर दिया, लेकिन अचानक चिल्लाने की आवाज सुनकर आए पडौसियों को देख हमलावर भाग खड़े हुए।


टोंक पुलिस द्वारा भले ही पिछले एक साल दर्जनों चोरी वारदातों का खुलासा करने मे कामयाब रही हो, लेकिन इस दौरान टोंक मे अपराधियों के हौंसले पस्त करने मे नाकामयाब रही है। यही कारण है कि टोंक पुलिस के आमजन को सुरक्षित माहौल देने के दावों की आये दिन हवा निकलती नजर आ रही है। आज सुबह कोतावाली थाना क्षेत्र के आदर्श नगर में सरंपचसंघ जिलाध्यक्ष वह बावड़ी ग्राम पंचायत के सरपंच हंसराज धाकड़ पर हथियारों से लेस आधा दर्जन से ज्यादा लोगों ने हमला कर दिया। इस हमले में उनको गंभीर चोटें आई है।


दरअसल, हंसराज धाकड़ आदर्श नगर में किराए के एक मकान में रहते हैं। इसी दौरान आज सुबह बिना नम्बरी टीयूवी कार में सवार होकर आए हथियार बन्द बदमाशों ने धाकड़ के घर में घुसकर उन पर जानलेवा हमला बोल दिया। सरपंच हंसराज धाकड़ की चीख—पुकार सुनकर जब कॉलोनीवासी इकट्ठे हुए तो हथियार बन्द बदमाश अपनी बिना नम्बरी कार में सवार होकर फरार हो गए। 


आपको बता दें कि पिछले एक सप्ताह से सड़क सुरक्षा सप्ताह के तहत जगह-जगह लोगों को रोककर यातायात नियमों की जानकारी देने के साथ लोगों को चालान काटे जा रहे हैं। इसके बावजूद बिना नम्बर की कार में सवार होकर आये बदमाश आसानी से हमलाकर फरार होने मे कामयाब हो गए, जिससे पुलिस गश्त और सड़क सुरक्षा सप्ताह की क्रियान्विती पर संदेह पैदा करता है।


बहरहाल कॉलोनिवासीयों ने घायल हंसराज को सआदत अस्पताल पहुंचाया, जहां फिलहाल उनका उपचार किया जा रहा है। वहीं हमले को लेकर धाकड़ का कहना है कि उनकी ग्राम पंचायत मे टेंडर के मामले मे पहले भी उन पर हमले हुए, जिसकी रिपोर्ट कोतवाली थाने करवाई जा चुकी है। लेकिन कोई कार्यवाही नहीं होने से बदमाशों के हौंसले बुलंद है। वहीं पुलिस अधिकारी हमेशा की तरह जांच के बाद कार्यवाही का जुमला उछाल रहे हैं।


पेशे से वकील सरंपच संघ अध्यक्ष और बीजेपी नेता पर हुए जानलेवा हमले की घटना की सूचना पाकर भाजपा जिला अध्यक्ष गणेश माहुर, जिला महामंत्री दीपक संगत, शहर मन्डल अध्यक्ष सहित कई अधिवक्ता और जनप्रतिनिधी उनकी कुशलक्षेम पूछने सआदत अस्पताल पहुंचे। साथ ही सरपंच अध्यक्ष ने कहा कि पहले भी उन पर कई बार जानलेवा हमल हो चुके है, जिसकी शिकायत उन्होंने टोड़ारायसिंह और कोतवाली थाना पुलिस में भी दे रखी है। साथ ही उन्होंने लगातार हो रहे जानलेवा हमलों को लेकर जिला प्रशासन से उन्हें सुरक्षा मुहैया कराए जाने की मांग की है।

 

Tonk Rajasthan Fatal Attack Sarpanch Hansraj Dhakad BJP Leader

Related Stories in City

  • img-ractangle

    शराब बेचने के लिए मना करने पर विवाद, युवक की लाठियों से पीट-पीटकर हत्या

    शहर के पुरानी टोंक थाना क्षेत्र के छावनी इलाके में शराब बेचने के लिए मना करने के विवाद को लेकर दो पक्षों में झगडा हो गया, जिसमें एक युवक की लाठियों से पीट-पीटकर कर दी।

  • img-ractangle

    उधारी की ऐवज में कर दिया दुधमुंहे बच्चे का सौदा

    राजस्थान के टोंक में माता-पिता के रिश्ते को शर्मसार कर देने वाली एक ऐसी घटना सामने आई है, जिसमें 20 हजार रुपए की उधारी नहीं चुका पाने वाले मां-बाप ने अपने दुधमुंहे बच्चे को उधारी की ऐवज में बेच दिया। खास बात ये है कि जिस शख्स को बच्चा बेचा गया था, उसका मन पसीजने के बाद उसने मासूम को बाल आश्रम में सौंप दिया।

  • img-ractangle

    मामूली कहासुनी के बाद युवक का अपहरण कर की हत्या

    शहर के पुरानी टोंक थाना इलाके के संघपुरा में रहने वाले एक युवक की मामूली कहासुनी के बाद दो युवकों द्वारा उसका अपहरण कर हत्या कर देने का मामला सामने आया है। परिजनों के अनुसार युवक अपने दोस्तों के साथ ढाबे पर खाना खाने गया था, जहां दो युवकों से उसकी मामूली कहासुनी हो गई।

Relate Category

Poll

क्या पुलिस की ढिलाई के कारण महिलाओं से अपराध बढे हैं?

A Yes
B No

Thought of the day

मूर्खों से तारीफ सुनने से बेहतर है कि आप बुद्धिमान इंसान से डांट सुन ले ~ चाणक्य

Horoscope