People expressed outrage over the proceedings of the Electrical Department

विद्युत विभाग की कार्यवाही को लेकर लोगों ने जताया आक्रोश

Published Date-26-Oct-2016 03:40:13 PM,Updated Date-26-Oct-2016, Written by- Ravish Tailor

टोंक। विद्युत मीटर से छेड़खानी कर विभाग को चूना लगाने वालों पर कार्यवाही करने का विरोध होना भी शुरू हो गया है। यही कारण है कि पूरे शहर मे जहां-जहां विभाग ने मीटर चैंकिंग की कार्यवाही की, वहां लोगों ने विरोध के स्वर तेज कर दिये। इसी मुद्दे को लेकर कांग्रेस ने आज जिला कलेक्टर पर सैंकडों कार्यकर्ताओं के साथ मीटर जब्ती की कार्यवाही से पीड़ित लोगों के साथ कलेक्ट्रेट पहुंचकर विभाग एवं बीजेपी सरकार के खिलाफ जमकर प्रदर्शन किया।


दरअसल टोंक मे बिजली विभाग द्वारा दो दिन से लगभग 50 उपभोक्ताओं को बिजली का अवैध उपभोग करते हुए जुर्माना लगाने के साथ उनके मीटर भी जप्त कर लिये गए हैं, जिससें त्यौहार के समय मे लोग अंधेरे मे रात बिताने पर मजबूर हो रहे हैं।


टोंक जिला मुख्यालय पर पिछले दो दिनों से बिजली विभाग के कर्मचारी और अधिकारी पुलिस जाप्ते को साथ लेकर मीटर चैकिंग करने के बाद गडबडी बताकर मीटर जब्त करने की कार्यवाही कर रहे हैं, जिसके विरोध मे आज कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने बीजेपी सरकार पर हमला बोलते हुए बिजली विभाग की विजिलेंस टीम के माध्यम से गरीब जनता को बेवजह परेशान करने का आरोप लगाया। 


लोगों ने बताया कि विद्युत विभाग के कर्मचारी मीटर चैक करने के बाद उनके बताये बगैर ही सीधे बिजली कनेक्शन काट रहे हैं, जो अनुचित है। वहीं कांग्रेसियों ने आरोप लगाया कि विभाग के कर्मचारी भेदभावपूर्ण नीति अपनाते हुए अल्पसंख्यक एवं दलित वर्ग के लोगों के बिजली कनेक्शन काट रहे हैं। जबकि व्यापारी वर्गाें एवं औद्योगिक क्षेत्र मे हो रहे बिजली उपभोग की जांच कभी विभाग द्वारा की ही नहीं जाती है। सिर्फ गरीब जनता के खिलाफ कार्यवाही होती है।


गौरतलब है कि पिछले कई सालों से लोगों द्वारा अवैध रूप से मीटर से छेड़खानी कर अपने हिसाब से रीडिंग सेट करने के खिलाफ विद्युत विभाग द्वारा कार्यवाही की जा रही है। इसके तहत कार्यवाही करते हुए निगम की कई टीमों ने दो दिन के दौरान शहरभर मे 50 से अधिक मकानों पर लगे मीटर से छेड़खानी पाये जाने पर जुर्माना लगाया और मीटर जब्त करने की कार्यवाही की। 


इसके विरोध मे अतिरिक्त जिला कलक्टर से मिले कांग्रेसियों और आमजन ने विभाग की शिकायत की, जिस पर अधिकारी ने मामले जांच करवाने की बात कहते हुए उचित कार्यवाही की बात कही। जबकि विभाग ने साफ तौर पर कहा है कि जब तक शहर मे मीटर से छेड़खानी के मामलों पर लगाम नहीं लगेगी, वह कार्यवाही करते रहेंगे।

 

Tonk Rajasthan Outrage Protest Proceedings Electrical Department Electrical Meter

Click below to see slide

Recommendation