Play Tv

Breaking News

Roadways worker on strike

लोक परिवहन बस के विरोध में रोडवेजकर्मी हड़ताल पर

Published Date-06-Oct-2016 04:01:52 PM,Updated Date-06-Oct-2016, Written by- FirstIndia Correspondent

टोंक| सरकार के निजी बसों कों रोडवेज में जोडने के फैसलें के विरूद्ध एक बार फिर से रोडवेजकर्मी हड़ताल पर चले गए, लेकिन अचानक हड़ताल होने के फैसलें का सबसे बडा असर यात्रियों पर पड़ा| जिन्हे आज सुबह तक कोई सूचना नही थी कि रोडवेजकर्मी हड़ताल पर और बस स्टेण्ड पर उन्हे हड़ताल के बारे मे जानकारी मिली| टोंक मे भी करीब नौ बजे रोडवेजकर्मियों ने अचानक हड़ताल  की घोषणा करते हुये अपने वाहन साईड मे लगा दिये| जिससे बस स्डेण्ड खाली नजर आया|

 

वहीं आज सुबह बस स्टेण्ड पर खडी रोडवेज बस को सरकार द्वारा चलाई जा रही निजी क्षेत्र की लोक परिवहन बस द्वारा टक्कर मारने से भी मामला गर्मा गया| जिससें के बाद रोडवेज कर्मियों हंगामा कर दिया और सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुये लोक परिवहन सेवा को बंद कराने की मांग करने लगे| हम आपकों बता दे पिछले साल राज्य सरकार ने रोडवेज सेवा का निजीकरण करते हुये लोक परिवहन बसों का संचालक शुरू किया था|

 

जिसके बाद से लगातार रोडवेजकर्मी और सरकार के बीच बैठकों का दौर चल रहा है लेकिन कर्मचारियों का आरोप है कि सरकार अपनी हठधर्मिता के चलते रोडवेज का निजी हाथों मे देना चाहती है| रोडवेज सेवा कर्मचारियों द्वारा शुरू की गई सेवा है, जिससें निजी हाथों मे देने का सरकार को कोई हक नहीं है| हर साल घाटे मे चल रोडवेज सेवा कों उबारने की बजाय राज्य इसे बंद कर निजी हाथों मे देना चाहती है| जिसका विरोध रोडवेजकर्मी करते रहेंगे| वही गुरूवार सुबह अचानक हड़ताल के घोषणा होने से बस स्टेण्ड पहुंचे लोग खासे नाराज दिखाई दिये| जबकि टोंक रोडवेज प्रबंधन द्वारा कोई वैकल्पिक व्यवस्था नही होने से भी यात्री निजी वाहनों मे यात्रा करने पर मजबूर हो रहे है।

 

Roadways Worker, Strike, Rajasthan, Tonk

Related Stories in City

  • img-ractangle

    शराब बेचने के लिए मना करने पर विवाद, युवक की लाठियों से पीट-पीटकर हत्या

    शहर के पुरानी टोंक थाना क्षेत्र के छावनी इलाके में शराब बेचने के लिए मना करने के विवाद को लेकर दो पक्षों में झगडा हो गया, जिसमें एक युवक की लाठियों से पीट-पीटकर कर दी।

  • img-ractangle

    उधारी की ऐवज में कर दिया दुधमुंहे बच्चे का सौदा

    राजस्थान के टोंक में माता-पिता के रिश्ते को शर्मसार कर देने वाली एक ऐसी घटना सामने आई है, जिसमें 20 हजार रुपए की उधारी नहीं चुका पाने वाले मां-बाप ने अपने दुधमुंहे बच्चे को उधारी की ऐवज में बेच दिया। खास बात ये है कि जिस शख्स को बच्चा बेचा गया था, उसका मन पसीजने के बाद उसने मासूम को बाल आश्रम में सौंप दिया।

  • img-ractangle

    मामूली कहासुनी के बाद युवक का अपहरण कर की हत्या

    शहर के पुरानी टोंक थाना इलाके के संघपुरा में रहने वाले एक युवक की मामूली कहासुनी के बाद दो युवकों द्वारा उसका अपहरण कर हत्या कर देने का मामला सामने आया है। परिजनों के अनुसार युवक अपने दोस्तों के साथ ढाबे पर खाना खाने गया था, जहां दो युवकों से उसकी मामूली कहासुनी हो गई।

Relate Category

Poll

क्या पुलिस की ढिलाई के कारण महिलाओं से अपराध बढे हैं?

A Yes
B No

Thought of the day

मूर्खों से तारीफ सुनने से बेहतर है कि आप बुद्धिमान इंसान से डांट सुन ले ~ चाणक्य

Horoscope