भारतीयों के लिए अब अमेरिका जाना होगा मुश्किल

Published Date 2017/01/12 13:46,Updated 2017/01/12 13:46, Written by- FirstIndia Correspondent

न्‍यूयॉर्क। डोनाल्ड ट्रंप ने H1-B वीजा को लेकर फिर बड़ा बयान दिया है| ट्रंप ने कहा है कि अमेरिकी लोगों की रोजगार सुरक्षा उनकी प्राथमिकता है और वे अमेरिकी लोगों की जगह विदेशी कामगारों को नौकरी पर रखे जाने की अनुमति नहीं देंगे| अमेरिका में डोनाल्‍ड ट्रंप सरकार आते ही भारतीय आईटी एक्‍सपर्ट्स को मिलने वाली एच1बी वीजा सुविधा पर नियम बदल सकते हैं।

 

अटॉर्नी जनरल पद के लिए अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के नॉमिनी ने संकेत दिए हैं कि वो जल्द ही एच-1बी और एल-1 वीजा के दुरुपयोग को रोकने की दिशा में कदम उठा सकते हैं। यह वो वीजा होते हैं जिसका उपयोग आमतौर पर भारतीय पेशेवर करते हैं।

 

आपको बता दें कि अमेरिकन को नौकरी से निकाला जा सकता है अगर दुनिया का कोई भी व्यक्ति उस व्यक्ति से कम वेतन पर वो जॉब करने को तैयार है। हमारी सीमाएं हैं, हमारी अपने नागरिकों के प्रति प्रतिबद्धता है और आप उसके चैंपियन रहे हैं। मैं आपके साथ इस पर काम कर गौरवान्वित महसूस करूंगा।”

 

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप एच-1बी वीजा में कटौती करके भारतीय पेशेवरों को रोकने की कवायद कर रहे हैं ताकि ये नौकरियां केवल स्थावनीय अमेरिकियों को ही मिल सकें। अमेरिकी कांग्रेस में एच1बी वीजा को प्रभावित करने वाले बिल नए रूप में से पेश किए गए थे।

 

इसके बाद से देश में कार्यरत आईटी कर्मचारियों के अलावा अन्य क्षेत्रों के बेहतर कर्मचारियों के लिए समय बदलने वाला है। इनमें रिसर्च एनालिस्टे, वित्तीरय सलाहकार, वेब डेवलपर्स, टीचर, कलाकार, मेडिकल कर्मी और फार्मेसी आदि शामिल हैं। इनमें से अधिकांश का वेतन 60 हजार से 1 लाख डॉलर के बीच है।

 

अमेरिकी कांग्रेस में नया प्रस्तािवित विधेयक इन सभी कर्मचारियों को आईटी क्षेत्र की तरह की प्रभावित करने वाला है। पुणे, बेंगलुरु और गुरुग्राम सहित अलग-अलग शहरों में इन आईटी कंपनियों के डेवलपमेंट सेंटर्स हैं, उन्हें भी इसका असर झेलना पड़ सकता है।

 

देश को यह लाभ मिल सकता है कि यदि नॉन अमेरिकी व पर्टिक्युकलर भारतीय कर्मचारियों को अमेरिका में और अधिक कार्य नहीं करने दिया जाएगा तो उनके देश को कंपनी एसेट यानी श्रेष्ठा कर्मचारियों की पूंजी का लाभ मिल सकता है।

 

America, Indians, Donald Trump, H1B Visa

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

Most Related Stories

Anand pal escaped after firing on policemen along

Know Who is this crook Anand pal | Dial
Why Anand pal is not found even after 5 days of
Home Minister said no clue but DGP claimed some