किसानों की नहरों में सिंचाई के पानी की मांग, व्यापारी भी आए समर्थन में 

FirstIndia Correspondent Published Date 2017/11/14 02:11

जैसलमेर। किसान मजदूर व्यापारी संघर्ष समिति के आहवान पर रामगढ़ कस्बा  मंगलवार को पूरी तरह से बन्द रहा। कस्बे के समस्त व्यापारियों ने किसानों की नहरों मे सिंचाई के पानी की मांग को जायज बताते हुए उनका समर्थन किया और अपने अपने प्रतिष्ठान बन्द रखे। व्यापारियों का कहना है कि किसानों की नहरों में सिंचाई के पानी की मांग जायज है और समस्त व्यापारियों का उनको समर्थन है।

गौरतलब है कि नहरों में सिंचाई की पानी की मांग को लेकर पिछले तीन दिन से रामगढ़ क्षेत्र के किसानों द्वारा उप तहसील कार्यालय के बाहर धरना दिया जा रहा है। नहरों में पानी की कमी के चलते परेशान किसान धरना प्रदर्शन कर रहे हैं और सरकार के कानो पर जूं तक नहीं रेंग रही है।

अब किसानों के समर्थन में व्यापारी भी उतर आए है। रामगढ़ के समस्त व्यापारियों ने किसानों की मांग का समर्थन करते हुए बाजार पूरी तरह से बंद रखा और विरोध प्रदर्शन किया। किसानों ने बताया कि रामगढ़ की नहरों में इन दिनों न तो पानी है और नहरों पर कोई कर्मचारी है।

पानी के अभाव में बिजाई प्रभावित हो रही है वहीं कर्मचारीयों की अनुपस्थिति में वितरण व्यवस्था गड़बड़ाई हुई है। इस समय रबी फसल बुवाई का समय है और नहरों पानी नहीं होने से हजारों किसान खेती करने से वंचित है। नहरी विभाग की हठधर्मिता के आगे गरीब किसान बेबस है और खून के आंसु रो रहे हैं। अगर यही हालात रहे तो किसान उग्र आंन्दोलन को मजबूर होंगे।

 

 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in

साईंबाबा के दर पर शिरडी पहुंचे पीएम मोदी

2:00 बजे की सुपर फास्ट खबरें | News 360
गुडलक टिप्स में जानिए, अपनी समस्याओं के समाधान जानिए पंडित मुकेश शास्त्री जी से
जन्मदिन पर एनडी तिवारी की अंतिम सांस
Big Fight Live | जीतना जरूरी है ! | 18 OCT, 2018
छत्तीसगढ़ चुनाव के लिए कांग्रेस उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी
1:00 बजे की सुपर फास्ट खबरें | News 360
जानिए किस विधि से की जाए नवमीं पूजा | Good Luck Tips