इस वजह से एक बार फिर सुर्खियों में गैंगस्टर आनंदपाल एनकाउंटर मामला

Vishnu Sharma Published Date 2018/10/11 11:10

जयपुर(विष्णु शर्मा)। कुख्यात गैंगस्टर आनंदपाल के एनकाउंटर का मामला एकबार फिर चर्चा में है। पुलिस मुख्यालय ने एनकाउंटर टीम में शामिल रहे कमांडों सोहन सिंह सहित अन्य पुलिस अधिकारियों की सुरक्षा बढ़ाए जाने की मांग की है। एडीजी एटीएस के पत्र के बाद पुलिस मुख्यालय ने सरकार को एनकाउंटर टीम की सुरक्षा बढ़ाने का प्रस्ताव भेजा है। फिलहाल इस प्रस्ताव पर गृह विभाग में मंथन चल रहा है। 

राजस्थान पुलिस और राजनीतिज्ञों के लिए सिर दर्द बन चुके आनंदपाल का 24 जून 2017 को चुरू जिले के मालासर गांव में एनकाउंटर किया गया। हालांकि एनकाउंटर के दौरान गोलियां लगने से कमांडों सोहन सिंह भी घायल हो गया था। इधर 15 सितम्बर को सरकार ने एनकाउंटर करने वाली एसओजी-एटीएस की स्पेशल टीम में शामिल कमांडों सोहन सिंह, एएसपी संजीव भटनागर, एएसपी करण शर्मा व सीआई सूर्यवीर सिंह को अधिकारियों को 24 घंटे सुरक्षा कवर दिए जाने की घोषणा की थी। इसके लिए प्रत्येक अधिकारी-कर्मचारी को दो दो हथियार बंद सुरक्षाकर्मी उपलब्ध कराने के निर्देश जारी किए गए थे। 

हालांकि उन्हें एक-एक पीएसओ की सुरक्षा दी गई। इधर एडीजी एसओजी एटीएस उमेश मिश्रा ने पिछले दिनों सीबीआई जांच अधिकारी की पूछताछ का हवाला देते हुए सुरक्षा कड़ी करने के लिए पुलिस महानिदेशक को पत्र लिखा। उन्होंने लिखा कि सीबीआई डीएसपी सुनील रावत की पूछताछ के दौरान जेल में बंद आनंदपाल के भाई रूपेंद्र और देवेंद्रपाल ने जेल से निकलकर आनंदपाल की मौत का बदला लेने की बात कही है। इस आधार पर मिश्रा ने एनकाउंटर टीम की सुरक्षा कड़ी करने की मांग की हैं। इसके बाद सीआईडी इंटेलीजेंस के एसपी राजेश मीणा ने सरकार को टीम की सुरक्षा के लिए एक-एक पीएसओ उपलब्ध कराने के लिए लिखा है। फिलहाल मामला गृह विभाग में विचाराधीन चल रहा है। 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in

Big Fight Live | राजपूत VS राजपूत ! | 16 OCT, 2018

\'बंदूकबाज\' आशीष पांडे के खिलाफ कसने लगा कानूनी शिकंजा, गैर-जमानती वारंट जारी
मेरठ: आर्मी का जवान निकला PAK का जासूस, ISI को भेजी जानकारी
J&K: श्रीनगर में एनकाउंटर में लश्कर कमांडर सहित 3 आतंकी ढ़ेर, एक जवान भी शहीद
Kerala Sabarimala temple: हालात हुए बेकाबू, मीडिया को बनाया गया निशाना
पीएम मोदी को जान से मारने की धमकी
अष्टमी और नवमी के दिन किया जाने वाला कन्या पूजन किस विधि के द्वारा किया जाये ?
Big Fight Live | शर्तों के मेह\'मान\' ! | 16 OCT, 2018