1st India इंपैक्ट : सड़क निर्माण पूरा नहीं होने तक बस से आवागमन की सुविधा

Published Date 2016/09/28 18:09, Written by- FirstIndia Correspondent

करौली। करौली के मचेट गांव में भैंसावट नदी पर पुलिया नहीं होने से लोगों को ट्यूब पर बैठकर नदी पार करने को मजबूर होने की खबर 1st india पर चलने के बाद आज प्रशासन ने गॉव से बाहर पढने जाने वाले बालक बालिकाओ के लिए बस से विद्यालय जाने की व्यवस्था की है, जो नदी में सड़क बनने तक जारी रहेगी।


गौरतलब हैं कि 1st india पर खबर चलने के बाद नेशनल ह्यूमन राईट कमीशन ने राज्य सरकार को नोटिस देकर जबाब मांगा, तो जिला प्रशासन ने पंचायत समिति के सहयोग से नदी में 200 फुट लम्बी और आठ फीट चौड़ी सड़क बनाने का काम शुरू कर दिया, जो दो दिन में पूरा हो जायेगा। इसको लेकर ग्रामीणों ने मीडिया का धन्यवाद ज्ञापित किया है।


जिला कलेक्टर मनोज शर्मा ने बताया कि उन्होंने निर्देश देकर एसडीएम व पटवारी को मौके पर भेजा और वस्तुस्थिति का पता लगावाया है। साथ ही सार्वजनिक निर्माण विभाग को निर्देश देकर नदी पर पुलिया निर्माण के लिए प्रस्ताव तैयार कर टैण्डर करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने बताया कि पंचायत समिति को निर्देश देकर नदी में सड़क निर्माण नहीं होने तक स्कूली बच्चों के लिए गांव से स्कूल तक वाहन की व्यवस्था की है, जो आज शुरू हो चुकी। इससे न सिर्फ बच्चों को, बल्कि ग्रामीणों को भी लाने ले जाने का काम किया जाएगा।


उन्होंने कहा कि नदी में नांव चलाकर नदी पार कराना भी असुरक्षित है, इसलिए समस्या के स्थाई समाधान के लिए शीघ्र ही पुलिया का निर्माण कराया जायेगा। उल्लेखनीय है कि गत दिनों 1st india ने उक्त खबर को प्रमुखता से दिखाया था। 


मचेट गांव के करीब 70 बच्चों को स्कूल जाने के लिए एवं ग्रामीणों को आवश्यक कार्य के लिए ट्यूब पर सवार भैंसावट नदी पार करनी पडती है, जिसमें कई बार हादसे भी हो जाते हैं। इसके अलावा बीमार एवं गर्भवती महिलाओं को भी ट्यूब से नदी पार कर अस्पताल पहुंचाना पड़ता था। कई बार शिकायत व मांग करने पर भी सरकार व प्रशासन ने पुलिया निर्माण का कार्य नहीं कराया। जब 1st india ने खबर दिखाई तो सड़क निर्माण तो शुरू हो ही चुका है। साथ ही काम पूरा नहीं होने तक प्रशासन ने वाहन से आने जाने की व्यवस्था भी शुरू की है।

 

Karauli Rajasthan News Impact River Pool Construction

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in

loading...

-------Advertisement--------



-------Advertisement--------

2101