बारिश से मायानगरी बेहाल, फडणवीस के मंत्री बोले-मुंबई में जलभराव नहीं

Published Date 2018/07/10 02:58, Written by- FirstIndia Correspondent

मुंबई। एक तरफ जहां मायानगरी कही जाने वाली मुंबई कई दिनों से लगातार हो रही भारी बारिश से जलनगरी में तब्दील हो गई है। बारिश से पूरा मुंबई थम सा गया है, सड़के और रेलवे पटरियां पानी में डूबी हुई हैं, तो कई जगह घर पानी से लबालब भरे हुए है। स्थिति इतनी भयावह है कि सरकार, प्रशासन के पसीने छूट रहे हैं। खुद महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस हालात पर नजरें बनाए हुए हैं, ऐसे में महाराष्ट्र के एक मंत्री का दावा बेहद ही शर्मसार करने वाला है। 

महाराष्ट्र सरकार के मंत्री विनोद तावड़े ने कहा कि आपदा प्रबंधन ने बताया है कि मुंबई में जलभराव की कोई स्थिति नहीं है। संबंधित अथॉरिटी स्थिति नियंत्रण में रखे हुए हैं। चिंता करने की कोई बात नहीं है, क्योंकि आपदा प्रबंधन किसी भी स्थिति का सामना करने के लिए तैयार है। वहीं, महाराष्ट्र के सीएम ने कहा, पानी निकालने के लिए 150 अतिरिक्त पंप लगाए गए हैं। हम निगरानी रख रहे हैं और स्थिति को संभाल रहे हैं। अगर जरूरत पड़ी तो हम विभिन्न पाठ्यक्रमों में दाखिले की तारीख बढ़ाने पर भी विचार करेंगे।

भारी बारिश से मुंबई के हालात

-मुंबई की सड़कें और रेल पटरियां तालाब में तब्दील हो चुकी हैं।
-भारी बारिश की वजह से करीब 90 ट्रेनों का परिचालन रद्द करना पड़ा। वहीं, कुछ लोकल ट्रेनें करीब आधा घंटे की देरी से चल रही है। भायंदर और विरार के बीच लोकल को सस्पेंड कर दिया गया है। वसाई से विरार के बीच में अगली सूचना तक के लिए ट्रेनों के परिचालन को रद्द कर दिया गया है। सियोन स्टेशन के रेलवे ट्रैक पर भी पानी भरा हुआ है।
-मुंबई के कुछ स्कूलों में आज भी छुट्टियां करनी पड़ी।
-घोड़बंदर नाके पर गाड़ियों की आवाजाही को पूरी तरह से रोक दिया है। प्रशासन ने नागरिकों से अपील की कि बहुत जरूरी काम हो तभी घर से बाहर निकलें।
- पालघर जिले के वसई में जलभराव के कारण करीब 300 लोग अपने घरों से बाहर नहीं निकल पा रहे है। 
-मुंबई को गुजरात से जोड़ने वाले एकमात्र सड़क मार्ग को पानी भर जाने के कारण पूरी तरह से बंद कर दिया गया है।
-पालघर पुलिस ने बाढ़ की वजह से होटल में फंसे 10 लोगों को सुरक्षित बाहर निकाला। एक महिला का रेस्क्यू बोट पर इलाज किया। 
-वसई की एवरशाइन सोसायटी में इतना पानी भर गया है कि एक युवक को नाव लेकर अपने जरूरी काम के लिए जाना पड़ा।
-मिठाघर और राजवली में रेस्क्यू के लिए 43 लोगों की एनडीआरएफ टीम 6 नावों के साथ पहुंची।
-रेल सेवा के बाधित होने के चलते मुंबई के डब्बा वाला ने भी अपनी सेवा को आज रद्द किया।
-मुंबई-अहमदाबाद के बीच रेल सेवा पूरी तरह बंद है। मुंबई-अहमदाबाद रोड पर ट्रैफिक धीमी गति से चल रहा है। पालघर, बोइसर, सातीवली के अधिकांश अंदरूनी रास्ते पानी भरने की वजह से बंद हैं।
-मौसम विभाग की मानें तो 10 से 13 जुलाई के बीच ग्रेटर मुंबई, ठाणे, रायगढ़ और पालघर जिलों में अलग-अलग जगहों पर भारी बारिश के आसार हैं।
 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in

loading...

-------Advertisement--------



-------Advertisement--------

26393