मांझी ने किया NDA से किनारा, आरजेडी महागठबंधन में कल होंगे शामिल

FirstIndia Correspondent Published Date 2018/02/28 01:02

पटना। हिन्दुस्तानी आवाम मोर्चा (हम) के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी ने राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) से किनारा कर लिया है। एनडीए से अपने राजनीतिक रिश्तों को खत्म करने के बाद आज जीतनराम मांझी अब आरजेडी के महागठबंधन में शामिल होने की घोषणा की है। मांझी ने कहा कि वे इसकी औपचारिक घोषणा गुरुवार को सुबह दस बजे करेंगे, जब वे औपचारिक रूप से महागठबंधन में शामिल हो जाएंगे।

जीतनराम मांझी ने पटना में राष्ट्रीय जनता दल (राजद) अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के बेटे एवं बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव और तेजप्रताप यादव से उनके आवास पर मुलाकात की। करीब एक घंटे की बैठक के बाद जीतनराम मांझी ने महागठबंधन में शामिल होने का ऐलान किया। बैठक के बाद उन्होंने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि वह अब एनडीए का हिस्सा नहीं है और इसकी औपचारिक घोषणा गुरुवार को सुबह दस बजे करेंगे।

मुलाकात के बाद तेजस्वी यादव ने कहा कि मांझीजी बिहार के बड़े नेता है, दलितों पिछड़ों के नेता हैं। उन्होंने मुख्यमंत्री रहते हुए काफी सराहनीय काम किया है और मेरे पिताजी के साथ इनका पुराना संबंध रहा है। उन्हें हमेशा सम्मान मिलेगा। वहीं मांझी ने कहा कि एनडीए से अलग होने के कारणों का खुलासा गुरुवार को सुबह आयोजित पत्रकार सम्मेलन में किया जायेगा।

उल्लेखनीय है कि बिहार में दो विधानसभा और एक लोकसभा सीट पर 11 मार्च को उपचुनाव हैं और सीटों के बंटवारे को लेकर जीतनराम मांझी पिछले कई दिनों से एनडीए से नाराज चल रहे थे। जहानाबाद सीट पर हो रहे उपचुनाव के लिए मांझी ने टिकट की मांग की थी, लेकिन उनकी पार्टी को टिकट नहीं मिला। हालांकि एनडीए ने 2015 के विधानसभा चुनाव में जीतनराम मांझी की पार्टी को 20 सीट दी, लेकिन उन्हें सिर्फ एक सीट पर ही जीत मिल पाई थी। मांझी खुद दो सीटों पर चुनाव लड़े थे, जिसमें से उन्हें एक ही सीट पर जीत मिल पाई थी।

वहीं दूसरी ओर, हम अध्यक्ष जीतनराम मांझी के एनडीए छोड़ने और महागठबंधन में शामिल होने के ऐलान के बाद बिहार की राजनीति का पारा भी गरमा गया है और सियासी बयानबाजी का दौर भी शुरू हो गया है। जेडीयू नेता केसी त्यागी ने कहा कि राजद का जो नेतृत्व है, वह हताश और निराशा भरे दौर से गुजर रहा है। वहीं श्याम रजक ने कहा कि मिलना-जुलना अलग बात है, एनडीए मजबूत है। हम सही से सरकार चला रहे हैं, हमसे कोई नाराज नहीं है। लोकतंत्र में अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता है, हम बिहार की जनता और उनके विकास के लिए बात करते हैं।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in

सीएम वसुंधरा राजे की पहल, कौशल प्रशिक्षण से कुशल बन रहे युवा

मुख्यमंत्री ने झालावाड़ को दी सौगातें, CMR से किया 5 परियोजनाओं का आगाज़
थम गए बसों के पहिए, बिजली वाले भी दे रहे झटके, जनता की परेशानियों का कौन ज़िम्मेदार ?
राजस्थान में चाणक्य : उदयपुर में AMIT SHAH का संबोधन
ग्रामीण गौरव पथ योजना, योजना से बदली गांवों की तस्वीर
वसुंधरा राजे की ऐतिहासिक योजना, न्याय आपके द्वार अभियान
जयपुर में सलमान खान, स्पेशल बच्चों के \'उमंग\' सेंटर में केक कटिंग सेरेमनी
राजस्थान में चाणक्य : नागौर के मेला मैदान में AMIT SHAH का संबोधन