जोधपुर सांसद गजेन्द्र सिंह शेखावत को भी मोदी कैबिनेट में मिली जगह, समर्थकों ने मनाया जश्न

FirstIndia Correspondent Published Date 2017/09/03 10:54

जोधपुर| मोदी कैबिनेट का अब से कुछ देर बाद विस्तार होना है, जिसमें एक नाम है राजस्थान से जोधपुर सांसद गजेंद्र सिंह शेखावत जिन्हें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मंत्रिमंडल विस्तार में जगह मिली है| प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मंत्रिमंडल विस्तार में सांसद गजेंद्र सिंह शेखावत को जगह मिलने के बाद जोधपुर में जश्न का माहौल है।

साधारण जीवन शैली वाले शख्स के रूप में पहचाने जाने वाले शेखावत का जन्म 3 October 1967 को सीकर जिले में हुआ था| पिता के सरकारी सेवा में होने के कारण इनकी प्रारंभिक शिक्षा कई जगहों पर हुई| उन्होंने जय नारायण व्यास विश्वविद्यालय, जोधपुर  से दर्शनशास्त्र में एम.फिल  और MA की डिग्री हासिल की|

शेखावत को भारतीय संसद में अच्छा वक्ता और अच्छी बहस करने वाले के रूप में जाना जाता है| शेखावत व् भाजपा किसान विंग के राष्ट्रीय महासचिव, भाजपा किसान मोर्चा में विभिन्न पदों को संभला है| 1992 में ABVP के बैनर तले JNVU के छात्र संघ के अध्यक्ष के रूप में भी शेखावत चुने गए| शेखावत ने विश्वविद्यालय के इतिहास में दर्ज सबसे ज्यादा मार्जिन से चुनाव जीता था| एमपी के रूप में अपने कार्यकाल के दौरान उनकी प्रमुख उपलब्धियों में से एक जोधपुर हवाई अड्डे का विस्तार रहा है|

गजेंद्र सिंह शेखावत को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मंत्रिमंडल विस्तार में मंत्री बनाए जाने के बाद परिजनों में भी खुशी का माहौल है। सांसद गजेंद्र सिंह शेखावत के शास्त्री नगर स्थित आवास पर कई प्रशंसक पहुँचे और उन्होंने परिजनों को मिठाई खिला कर खुशी का इजहार किया। मंत्री बनने की सूचना मिलने के बाद सांसद गजेंद्र सिंह शेखावत की पत्नी नोनद कवर ने इसे खुशी का पल बताया और उम्मीद जताई कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जो जिम्मेदारी दी है उसे वह पूरी जिम्मेदारी से पूरी करेंगे।

वही सांसद गजेंद्र सिंह शेखावत की बेटी सुहासिनी ने बताया कि उनके पिता हमेशा से ही काम को ही पूजा मानते हैं और अब तक वह जोधपुर लोकसभा क्षेत्र को अपना परिवार मानते थे लेकिन अब पूरा देश उनका परिवार है और वह पूरी निष्ठा के साथ अपनी जिम्मेदारी को पूरा करेंगे| बेटे गजेंद्र सिंह शेखावत के केंद्रीय मंत्री बनने पर उनके माता-पिता ने भी खुशी का इजहार किया ।उनके पिता शंकर सिंह ने कहा कि शुरु से ही गजेंद्र सिंह शेखावत जुझारू और निष्ठावान रहे हैं और उसी का परिणाम है कि आज वह इस मुकाम पर पहुंचे हैं। वही उनकी माता मोहन कंवर में इसे खुशी का पल बताते हुए कहा कि उनकी हमेशा से ही यही चिंता रही है कि उनका बेटा स्वास्थ्य के प्रति जागरुक रहे।  उन्होंने कहा कि उन्हें जिम्मेदारी मिलने से काफी खुश है । 

 

 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in

मुंबई में मॉडल का मर्डर, सूटकेस में मिली मानसी की लाश

अमृतसर ट्रेन हादसा : रेल की पटरी पर आ रही थी मौत
रेलवे की \'रावण एक्सप्रेस\', कटकर मर गए 60 लोग
4:00 बजे की सुपर फास्ट खबरें | News 360
अलवर के बहरोड़ IOC की पाइप लाइन दबाने का विरोध
ये हादसा नहीं नरसंहार है ! ऐसी लापरवाही तो पहले कभी नहीं हुई !
शकुन अपशकुन क्या आप इसे मानते हैं अगर हां तो जरूर देखिये ये महा एपिसोड
BJP पार्षद ने की यूपी पुलिस के दरोगा की पिटाई