राष्ट्रीय राजनीति के हिसाब से देखा जाए तो भाजपा एवं कांग्रेस दोनों के लिए ​कर्नाटक चुनाव के नतीजे काफी अहम है। उपचुनाव में लगातार का हार का सामना कर रही भाजपा की यहां पूरी कोशिश है कि कर्नाटक में हर हाल में कमल जरूर खिले, वहीं कांग्रेस राज्य में अपनी सत्ता को बर​करार रखने के साथ ही पूरे देश में साबित करना चाहती है कि वही देश में अच्छी और प्रभावी सरकार दे सकती है।

गौरतलब है कि कर्नाटक चुनाव के बाद राजस्थान समेत कई हिंदी भाषी राज्यों में भी विधानसभा चुनाव होने हैं। ऐसे में यह तय माना जा रहा है कि कर्नाटक चुनाव के नतीजे इन राज्यों में होने वाले चुनावों पर भी काफी असर डाल सकते हैं। वहीं इसके साथ ही दक्षिण भारत में कर्नाटक को छोड़कर बीजेपी इन राज्यों में प्रभावी भूमिका निभाने की कोशिश कर रही है। दक्षिण भारत से कुल 130 सीटें लोकसभा के लिये आती हैं।

", "sameAs": "http://www.firstindianews.com/news/LIVE-Update-of-Karnataka-Assembly-Election-Results-2018-1719532589", "about": [ "Works", "Catalog" ], "pageEnd": "368", "pageStart": "360", "name": "Karnataka Election Results 2018 LIVE Update : रुझानों में खिला भाजपा का कमल", "author": "FirstIndia Correspondent" } ] }

Karnataka Election Results 2018 LIVE Update : रुझानों में खिला भाजपा का कमल

Published Date 2018/05/15 11:42, Written by- FirstIndia Correspondent

बेंगलुरु। कर्नाटक की 224 विधानसभा सीटों में से 222 सीटों के लिए 12 मई को हुए मतदान के बाद आज वोटों की गिनती की जा रही है। सुबह 8 बजे से शुरू ​हुई मतगणना के अभी तक के रूझानों में भाजपा ने बहुमत का जादूई आंकड़ा पार कर लिया है। वहीं कांग्रेस भी कभी आगे कभी पीछे बनी हुई है। अभी तक रुझानों में जहां भाजपा 113 सीटों पर आगे बनी है, वहीं कांग्रेस 67 सीटों पर आगे है। वहीं तीसरे मोर्च के रूप में जेडीएस ने 40 सीटों पर बढ़त बना रखी है और 2 सीटों पर अन्य पार्टियां आगे चल रही है।

मतगणना शुरू होने के बाद शुरूआती रुझानों में कांग्रेस ने बढ़त बना ली, लेकिन कुछ देर के बाद भाजपा ने बढ़त बनाना शुरू कर दिया और बहुमत के जादूई आंकड़े को पार कर लिया। हालांकि यहां हुए मतदान के बाद से ही तीनों प्रमुख राजनीतिक दल - कांग्रेस, भाजपा और जेडीएस सबसे बड़ी पार्टी बनने के साथ ही अपने दम पर सरकार बनाने का दावा कर रहे हैं। बता दें कि इस बार हुए मतदान का प्रतिशत पहले से ज्यादा रहा है। पहले ज​हां 71.45% मतदान हुआ था, वहीं इस बार मतदान का प्रतिशत 72.13% रहा है।

राष्ट्रीय राजनीति के हिसाब से देखा जाए तो भाजपा एवं कांग्रेस दोनों के लिए ​कर्नाटक चुनाव के नतीजे काफी अहम है। उपचुनाव में लगातार का हार का सामना कर रही भाजपा की यहां पूरी कोशिश है कि कर्नाटक में हर हाल में कमल जरूर खिले, वहीं कांग्रेस राज्य में अपनी सत्ता को बर​करार रखने के साथ ही पूरे देश में साबित करना चाहती है कि वही देश में अच्छी और प्रभावी सरकार दे सकती है।

गौरतलब है कि कर्नाटक चुनाव के बाद राजस्थान समेत कई हिंदी भाषी राज्यों में भी विधानसभा चुनाव होने हैं। ऐसे में यह तय माना जा रहा है कि कर्नाटक चुनाव के नतीजे इन राज्यों में होने वाले चुनावों पर भी काफी असर डाल सकते हैं। वहीं इसके साथ ही दक्षिण भारत में कर्नाटक को छोड़कर बीजेपी इन राज्यों में प्रभावी भूमिका निभाने की कोशिश कर रही है। दक्षिण भारत से कुल 130 सीटें लोकसभा के लिये आती हैं।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Sambandhit khabre

Stories You May be Interested in


loading...

Most Related Stories


-------Advertisement--------



-------Advertisement--------