चिकित्सा विभाग हुआ सक्रिय, एक लाख लोगों के लिए खून के नमूने

FirstIndia Correspondent Published Date 2017/10/27 03:52

राजसमंद| इन दिनों चल रही मौसमी बीमारियों के चलते आला अधिकारीयों के निर्देश पर जिला चिकित्सा विभाग सक्रिय नजर आ रहा है। इसके तहत मलेरिया रोकथाम के लिये करीब एक लाख लोगों के खून की जांच की गई है। इनमे से तीस पोजेटिव आने पर उनका उपचार शुरु कर दिया गया है। आगे भी इस माह के अन्त तक यह कार्यक्रम जारी रहेगा। 

इसके अलावा डेंगू के सात मामले सामने आये है। दोनो बीमारियों से बचाव के लिये आवश्यक दवाईयां पर्याप्त मात्रा मे उपलब्ध है। इन दिनों सबसे खतरनाक बीमारी के रुप मे सामने आई स्वाइन फ्लू के जिलेभर से कुल 83 मामले सामने आए है| इनमे से उपचार के दौरान चार मरीजों की मौत हो चुकी है, जिनका नियमानुसार पूरी एतिहात रखते हुए अंतिम संस्कार करवा दिया गया है।

इनके परिजनों, मौहल्लावासियों और बीमारी के दौरान सम्पर्क मे आने वाले लोगों को भी आवश्यक रख-रखाव की दवाईयां दी जा चुकी है। हालांकि पिछले माह ज्यादतर स्वाइन फ्लू के मामले सामने आए है, जबकि इस माह सामने आने वाले मरीजों में कमी के चलते चिकित्सा विभाग ने राहत की सांस ली है।

 

 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in

क्या है इस बार श्राद्ध की सही तिथि और तारीख़ ? | Good Luck Tips | 22 Sep 2018

राफेल पर राहुल गांधी का PM मोदी पर हमला
मानवेंद्र की स्वाभिमान रैली और सियासत !
कोटा में शक्ति केंद्र सम्मेलन में अमित शाह का संबोधन
Rajasthan Gaurav Yatra | अलवर, बानसूर में CM Vasundhara Raje का संबोधन
कोटा में शक्ति केंद्र सम्मेलन में अमित शाह का संबोधन
मां का बेरहम चेहरा, मासूम बेटे को बैट से पीटा
नन रेप केस : बिशप फ्रैंको मुलक्कल गिरफ्तार