चित्तौड़गढ़ में 'पद्मावती' के विरोध में 300 से ज्यादा लोगों ने दी गिरफ्तारियां

Published Date 2017/11/26 05:27, Written by- FirstIndia Correspondent

चित्तौडगढ़। फिल्म निर्देशक संजय लीला भसांली द्वारा ऐतिहासिक पृष्ठभूमि पर आधारित फिल्म 'पद्मावती' के विरोध में आज चित्तौड़गढ़ में सर्वसमाज ने जोरदार प्रदर्शन किया। वहीं इस दौरान 300 से अधिक महिला-पुरूषों ने गिरफ्तारी देकर फिल्म को पूरी तरह से बैन किए जाने की मांग की। गौरतलब है कि चित्तौडगढ़ दुर्ग के पहले दरवाजे पर पिछले 18 दिनों से धरना प्रदर्शन किया जा रहा है।

इसी बीच फिल्म को विदेश में रिलीज करने की जानकारी सामने आने के बाद सर्वसमाज के लोगों में भारी आक्रोश है। इसी के तहत उन्होंने सरकार को चेतावनी देने के लिए बड़ी सख्यां गिरफ्तारिया देकर विरोध प्रदर्शन किया। नारेबाजी करते महिला पुरूष जुलूस के रूप में धरनास्थल से रवाना हुए और पुलिस ने कुछ ही दूरी पर सभी को गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस ने छह गाड़ियों में भरकर इन प्रदर्शनकारियों को नगर के इंदिरा गांधी स्टेडियम में छोड़ा। इसमें कुल 307 महिला पुरूषों ने गिरफ्तारियां दी। वहीं गिरफ्तारी के बाद बोलते हुए करणी सेना के जिलाध्यक्ष गोविन्द सिंह खंगारोत ने चेतावनी दी है कि इस फिल्म पर बेन नहीं लगाया जाता है तो प्रदर्शन और उग्र होगा।

उन्होंने कहा कि रेल रोकने के साथ ही दुर्ग पर पर्यटकों का प्रवेश रोकना पड़े तो भी वे पीछे नहीं हटेंगे। इस दौरान महेन्द्र सिंह मेड़तिया ने भी अपने उग्र तैवर दिखाए। वहीं धरने में आई निर्मला शक्तावत ने कहा कि आज गिरफ्तारियां दी है, अगर जौहर भी करना पड़ा तो वे पीछे नहीं हटेंगी।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in


loading...

-------Advertisement--------



-------Advertisement--------