निम्स यूनिवर्सिटी की अवैध इमारतें होगी ध्वस्त, जेडीसी ने अफसरों को निर्देश दिए

Published Date 2017/11/14 01:52, Written by- Smit Paliwal

जयपुर| रामगढ़ बांध के बहाव क्षेत्र में बनाई गई निम्स यूनिवर्सिटी की अवैध इमारतें 20 नवम्बर से पहले ध्वस्त होंगी| विदेश गए जेडीसी वैभव गालरिया ने अफसरों को निर्देश दिए हैं कि उनके आने से पहले निम्स यूनिवर्सिटी की अवैध इमारतें ध्वस्त मिलनी चाहिए| जेडीसी के इस निर्देश के बाद अफसरों में हलचल मच गई है| इन इमारतों को ध्वस्त करने के लिए दो विकल्प पर विचार चल रहा है| इसमें मुख्य तौर पर विस्फोटक से उड़ाने पर फोकस है| 

प्रवर्तन शाखा के मुखिया पुलिस अधीक्षक राहुल जैन इसके लिए इंदौर के विस्फोटक विशेषज्ञ से संपर्क में हैं, संभव एक-दो दिन में जयपुर आए| हालांकि जेसीबी और लोखंडा मशीन के संसाधन से ही हटाने पर सोचा है| इस बीच जेडीए सचिव एच.गुईटे के निर्देशन में बुधवार को संबंधित अधिकारियों के बीच मंथन होगा| इसमें जिला कलेक्टर के प्रतिनिधि भी शामिल होंगे| 

संबंधित अभियंताओं को संसाधन जुटाने के निर्देश दे दिए गए हैं| बता दें कि यूनिवर्सिटी प्रशासन ने 8125 वर्गमीटर सरकारी भूमि पर अवैध तरीके से इमारतों का निर्माण कर रखा है| इसमें हॉस्टल की चार इमारते शामिल हैं| वहीं 16 जेडीए अधिकारियों का दावा है कि सुप्रीम कोर्ट ने यूनिवर्सिटी प्रशासन को 16 नवम्बर तक का समय दिया है, जिससे वे इमारत को खाली कर सकें| इसलिए जेडीए इसके बाद ही कार्रवाई करेगा|
 
 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

Stories You May be Interested in


Most Related Stories


-------Advertisement--------



-------Advertisement--------