शनिवार को पुष्य नक्षत्र योग साथ ही गुप्त नवरात्रों की शुरुआत

Published Date 2018/07/14 03:25, Written by- FirstIndia Correspondent

जयपुर। आज का दिन ज्योतिषियों और हिन्दू धार्मिक ग्रंथों की जानकारी रखने वालों के अनुसार बहुत ख़ास है। शनिवार के दिन पुष्य नक्षत्र योग बनने से शनि पुष्य योग बन रहा है। आज के दिन आपको क्या करना चाहिए और क्या नहीं..यानि क्या करने से आपको फायदा होगा और क्या करने से नुकसान...आइये जानते हैं। 

14 जुलाई 2018 को तारीख और आज दिन शनिवार है ज्योतिष और गृह नक्षत्रों की जानकारी रखने वालों के मुताबिक बहुत खास है। इस शनिवार को पुष्य नक्षत्र का योग बन रहा है, ज्योतिष में सभी 27 नक्षत्रों में पुष्य नक्षत्र को सबसे उत्तम नक्षत्र माना गया है। शनिवार के दिन पुष्य नक्षत्र होने से शनि पुष्य योग बन रहा है, इसके अलावा आज के दिन की खास बात यह भी है कि आज से ही गुप्त नवरात्रि की शुरुआत भी हो रही है। जिसकी वजह ये शनिवार बहुत शुभफलदायक माना जा रहा है। ज्योतिषियों के मुताबिक़ जिन लोगों की कुंडली में शनि ग्रह की अशुभ छाया है उनके लिए कुछ उपाय करने से यह शनिवार लाभदायक रह सकता है। ज्योतिष गणना के अनुसार इस समय वृश्चिक,धनु और मकर राशि पर शनि की साढ़े साती चल रही है। वहीं वृष और कन्या राशि पर शनि की ढैय्या का असर है। ऐसे में शनि की कुदृष्टि से बचने के लिए कुछ उपाय करके उनसे बचा जा सकता है।

अगर हम बात करें शनि की कुदृष्टि से बचने के लिए तो ये कुछ उपाय हैं, जिन्हें करने से हम शनि की कुदृष्टि से बच सकते हैं। शनिवार के दिन शनिदेव को सरसों के तेल से उनका अभिषेक करें और दीपक जलाएं। जानकारों के मुताबिक और भी उपाय हैं जिन्हें करने से आपको फायदा हो सकता है। जैसे कि शनि पुष्य योग पर गरीबों को काली चीजों का दान करने और उन्हें भोजन खिलाएं। जूते, काले कपड़े, अनाज और लोहे के बर्तन दान करें और साथ ही शनि पुष्य योग पर पीपल के पेड़ पर सुबह जल अर्पित करें और शनि के मंत्रों का 108 बार जप करें। जिससे की शनि की आप पर दया दृष्टि बनेगी।

ज्योतिष के जानकारों के अनुसार कुल 27 नक्षत्र होते हैं। जिसमें पुष्य नक्षत्र को सभी नक्षत्रों का राजा माना जाता है। इस नक्षत्र में खरीददारी करना शुभ माना जाता है। शास्त्रों में भी ऐसा वर्णन है कि पुष्य नक्षत्रों में किए गए काम हमेशा सफल होते हैं।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in

loading...

-------Advertisement--------



-------Advertisement--------

26807